2

महान रणनीतिकार शिवाजी की मनाई गई जयंती

बिछुआ। भारत के महान राजा एवं रणनीतिकार छत्रपति शिवाजी महराज की जयंती युवा माता मंदिर समिति के द्वारा वार्ड नंबर 10 के बाजार चौक में भूमि पूजन कर जयंती बड़े ही धूमधाम से मनाई गई,  शिवाजी के जीवनी पर प्रकाश डालते हुए बताया कि 1674 ई. में पश्चिम भारत में मराठा साम्राज्य की नींव रखी थी इसके लिए उन्हें मुगल साम्राज्य के शासक औरंगजेब से भीषण संघर्ष करना पड़ा था, औरंगजेब के साम्राज्य का खात्मा करने के बाद रायगढ़ में उनका राज्याभिषेक हुआ। उसके बाद वह छत्रपति बने। उन्होंने ने अपनी अनुशासित सेना एवं सुसंगठित प्रशासनिक इकाइयों कि सहायता से एक योग्य एवं प्रगतिशील प्रशासन प्रदान, उन्होंने समर विद्या में अनेक नवाचार किये तथा छापामार युद्ध की नयी शैली विकसित कर प्राचीन राजनितिक प्रथाओं तथा दरबारी शिष्टाचार को पुनर्जीवित कर इतिहास में अपना अमिट छाप अंकित कर प्रेरणा के स्रोत बनने। 
शिवाजी चौक पर भव्य भगवा ध्वजारोहण संघ प्रमुख के वरिष्ठ के द्वारा किया गया छत्रपति शिवाजी भूमि पूजन के पश्चात भव्य रैली का शुभारंभ किया गया रैली इसके अलावा छत्रपति शिवाजी महाराज की वेशभूषा में घोड़े पर सवार होकर सन का केंद्र बना रहा रैली नगर के बाजार चौक से होते हुए रूठे मेडिकल शॉप खंडेरा चौक थाना रोड से होते हुए वर्कशॉप बस स्टैंड से होते हुए शिवाजी महाराज के गीतों पर थिरकते हुए बाजे गाजे के साथ मंदिर पहुंची जिसमें सैकड़ों युवाओं की उपस्थिति उपस्थिति रही जिसमें काफी उत्साह देखा गया कार्यक्रम का समापन महाप्रसाद देकर किया गया।भव्य रैली में मौजूद रहे वरिष्ठ आर एस एस के स्वयंसेवक के प्रमुख, नागरिक प्रीतम पटेल, प्रियवर ठाकुर परिषद के सीएमओ अजय ठाकरे गोलू नागरे गोवर्धन बोबडे सुरेंद्र धुर्वे और चेतन डोंगरे अंकित शिवहरे अर्जुन कामडे़।

केएमबी न्यूज से श्रावण कामड़े की रिपोर्ट

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6