2

न्यू जीवन रेखा हॉस्पिटल में ऑपरेशन के दौरान महिला की मौत डॉक्टर व स्टॉफ फरार


जिला संवाददाता बिरेन्द्र कुमार श्रीवास्तव/विवेकानंद उपाध्याय



     देवरिया आज शाम एक सनसनीखेज घटना सामने आया जब न्यू कॉलोनी स्थित न्यू जीवन रेखा हॉस्पिटल में रूबी देवी नाम की एक महिला पत्नी धर्मेंद्र कुमार सिंह निवासी बसडिला खुर्द थाना पटहेरवा जिला कुशीनगर की निवासी ने अपने बच्चेदानी का ऑपरेशन कराने के लिए न्यू जीवन रेखा हॉस्पिटल में भर्ती हुई आज शाम को डॉक्टर शर्मा एवं डॉ सी पी गुप्ता द्वारा ऑपरेशन किया जा रहा था परंतु ऑपरेशन के दौरान ही महिला रूबी देवी की ऑपरेशन टेबल पर ही मौत हो गई रूबी देवी का एक 5 वर्ष का बच्चा है परंतु महिला की जैसे ही मौत हुई उस कथित नर्सिंग होम के डॉ एक एक कर फरार हो गए उसके बाद स्टाफ ने मरीज को आस्था नर्सिंग होम के लिए रेफर कर दिया महिला के परिजन महिला को लेकर आस्था नर्सिंग होम पहुंचे परंतु वहां डाक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर कहा कि इसकी मौत आधा घंटा पहले हो गई है उसके बाद परिजन इस महिला को लेकर न्यू जीवन रेखा हॉस्पिटल पहुंचे तो वहां पर डॉक्टर सहित पूरा स्टाफ फरार था और महिला के मेडिकल डाक्यूमेंट्स भी गायब थे पर तुरंत महिला के परिजन देवरिया कोतवाली को खबर किया तो मौके पर सब इंस्पेक्टर सहित पुलिस टीम पहुंची तो पुलिस का कहना था कि आप सी.एम.ओ. को खबर करें वही इसकी जांच करा सकते हैं मैं तो सिर्फ FIR ही दर्ज कर सकता हूं सी.एम.ओ. ही इसकी जांच कराएंगे और पोस्टमार्टम के बाद कार्यवाही होगी जो दोषी पाया जाएगा वह दंडित किया जाएगा लेकिन इस प्रकार की घटनाएं आए दिन होती हैं परंतु अधिकारी इसका संज्ञान नहीं लेते और इस प्रकार के कथित नर्सिंग होम फल फूल रहे हैं इसमें आशा कार्यकर्ताओं एवं दलालों का बोलबाला है जहां इस केस में भी एक किरण नाम की महिला ही मरीज को लेकर आई थी जिसे वहां का स्टाफ भी बताया जा रहा है परंतु उक्त नर्सिंग होम को देखने के बाद किसी भी तरह से जीवन रेखा नहीं कहा जा सकता इसके ऑपरेशन थिएटर में किसी भी प्रकार की जीवन संबंधी सुविधाएं मौजूद नहीं थी जैसे ऑपरेशन करने के लिए एक बंद कमरे में महज एक ऑपरेशन टेबल और कुछ दवाइयों ही थी ए.सी. के नाम पर एक पेडेस्टल फैन लगा हुआ था वहां ऑक्सीजन की कोई व्यवस्था नहीं थी इस कथित नर्सिंग होम को हॉस्पिटल कहना भी गुनाह होगा क्योंकि यहां जीवन बचाने संबंधी कोई भी सुविधा उपलब्ध नहीं था समाचार लिखे जाने तक यहां अभी कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा था और FIR भी नहीं दर्ज हुआ था अधिकारियों के गैर जिम्मेदाराना रवैया की वजह से इस प्रकार की कई रूबी देवी जैसी महिलाओं का आए दिन मौत हो जाती है और इसकी जवाबदेही किसी भी अधिकारी पर नहीं बनती है



एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6