2

बीसी सखी योजना पर पानी फेर रहे हैं बैंक के शाखा प्रबंधक, बीसी सखी महिलाओं ने जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर की कार्यवाही की मांग

बीसी सखी योजना पर पानी फेर रहे हैं बैंक के शाखा प्रबंधक, बीसी सखी महिलाओं ने जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर की कार्यवाही की मांग

केएमबी अजय कुमार पाल

सुलतानपुर। जयसिंहपुर तहसील क्षेत्र के बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा सिसौड़ा के शाखा प्रबंधक की मनमानी के चलते शासन द्वारा ग्रामीणों की सुविधा व लाभ के लिये चलाई जा रही बीसी सखी योजना पर पानी फेरा जा रहा है। शासन द्वारा नियुक्त बीसी सखी महिलाओं की बैंक फ्रेंचाइजी की आईडी लॉक कर सरकार की महत्वाकांक्षी योजना को धराशाही किया जा रहा है। बैंक के शाखा प्रबंधक द्वारा आईडी लॉक किये जाने पर महिलाओं ने जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देते हुए कार्यवाही की मांग की है। तहसील क्षेत्र के पुरानी बाज़ारो में सुमार सेमरी बाजार कस्बे में स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा सिसौड़ा के शाखा प्रबंधक के मनमानी रवैये के चलते सरकार द्वारा महिलाओं को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने के लिये चलाई जा रही महत्वाकांक्षी योजना बीसी सखी पर पानी फेरा जा रहा है। शासन द्वारा चुनी गई बीसी सखी महिलाओं की आईडी बिना कारण बताए ही शाखा प्रबंधक द्वारा लॉक कर दी गई। जिससे सरकार की इस योजना का लाभ ग्रामीणों को नही मिल पा रहा है। मामला ग्राम पंचायत बाहरपुर और सिसौड़ा का है। जहां बाहरपुर से बीसी सखी मनीषा निषाद और सिसौड़ा से वन्दना यादव को शासन द्वारा बीसी सखी के लिए चयनित किया गया और बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा सिसौड़ा से इन महिलाओं को बीसी सखी की फ्रेंचाइजी के लिये आईडी भी जारी की गई जिससे इस योजना का लाभ गाँव की महिलाओं और ग्रामीणों को मिल सके। बीसी सखी महिलाओं ने जिलाधिकारी सुलतानपुर को शाखा प्रबंधक के खिलाफ शिकायती पत्र देते हुए शाखा प्रबंधक के खिलाफ कार्यवाही की मांग करते हुए आईडी खुलवाने की मांग की है। महिलाओं ने बताया कि मुझे बिना कारण बताए ही शाखा प्रबंधक द्वारा हम लोंगों की आईडी लॉक कर दिये। जब इस संबंध में उनसे पूंछ गया तो उन्होंने कहा कि आप की शिकायत मिली थी, जिसपर आईडी लॉक की गई है। आप ग्राम सचिवालय पर ही बैठकर कर काम कीजिये। जबकि ग्राम पंचायत सचिवालय की स्थित ये है कि अभी वहां हम लोंगों के बैठने की किसी प्रकार की व्यवस्था नही हो पाई है। हम ग्राम पंचायत में डोर टू डोर और अपने घरों से सरकार द्वारा चलाई गई इस योजना को जन जन तक इसका लाभ पहुंचा रहे है। इसके बावजूद भी ग्राम पंचायत में भी काम करने के लिये मना किया जा रहा है। जबकि इसी बाजार में अन्य ग्राम पंचायतों के खोली गई फ्रेंचाइजी 6 से 8 किलोमीटर दूर से आकर संचालित की जा रही है। इस संबंध में जब बीसी सखी के जयसिंहपुर नोडल अधिकारी रमेश से बात की गई तो उन्होंने बताया कि मुझे इस बारे में जानकारी मिली थी और इसकी शिकायत हमने जिले की संस्था जो इस योजना को देख रही है उसके अधिकारियों से की थी कि जयसिंहपुर में मैं नोडल अधिकारी नियुक्त हूँ किन्तु बैंक द्वारा मुझे भी बिना कोई जानकारी दिए आईडी लॉक कर दी। वही जब इस संबंध में बैंक के शाखा प्रबंधक उदय प्रताप सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हमारी शाखा के अंतर्गत कुल 31 बीसी सखी फ्रेंचाइजी है मुझे शिकायत मिली थी कि यह लोग अपने ग्राम पंचायत के लोंगों के अलावा दूसरी ग्राम पंचायत के लोंगों का भी पैसा निकाल रही थी जबकि इनके लिये ग्राम सचिवालय से ही कार्य करने के लिये कहा गया है। मिली शिकायत पर आईडी लॉक की गई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6