2

योगी सरकार में अपराधियों को नहीं है पुलिस का खौफ,कोतवाली देहात पुलिस के सह पर खुलेआम घूम रहे हैं मुल्जिम

योगी सरकार में अपराधियों को नहीं है पुलिस का खौफ,

कोतवाली देहात पुलिस के सह  पर खुलेआम घूम रहे हैं मुल्जिम

केएमबी जिला संवाददाता ऋतिक मिश्रा
सुल्तानपुर। प्रदेश सरकार के अपराधियों पर अंकुश कसने के दावों की पोल कोतवाली देहात की पुलिस खोलती नजर आ रही है। जहां एक तरफ प्रदेश सरकार उत्तर प्रदेश को अपराध मुक्त प्रदेश बनाने का प्रयास कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ सरकार के नुमाइंदे सरकार की मंशा को पलीता लगाने से बाज नहीं आ रहे हैं। पूरा मामला जनपद की कोतवाली देहात थाना क्षेत्र के ओदरा गांव से जुड़ा है जहां बीते 5 मई 2022 को गांव के ही एक युवक तफसील अहमद पुत्र फरीद अहमद के ऊपर गांव के ही कुछ दबंगों ने प्राणघातक हमला किया था जिसमें पीड़ित को गंभीर चोटें आई जिसका इलाज जिला अस्पताल में कराया गया। तफसील अहमद के भाई तहसीन की तहरीर पर थाना कोतवाली देहात में प्राणघातक हमले सहित कई धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया लेकिन पीड़ित का आरोप है कि मुकदमा पंजीकृत होने के बाद से ही स्थानीय पुलिस मुलजिमों पर इस कदर मेहरबान है कि गश्त के दौरान मुलजिम पुलिस के सामने से निकल जाते हैं। पुलिस उनकी तरफ देखती भी नहीं जबकि देखा जाए तो ओदरा गांव हमेशा से संवेदनशील क्षेत्रों में माना जाता है लेकिन बावजूद इसके स्थानीय पुलिस की इस कदर की लापरवाही इस तरफ इशारा करती है कि पुलिस किसी बड़ी घटना के घटने का इंतजार कर रही है। पीड़ित की बहन सबीना बानो ने पुलिस अधीक्षक सुल्तानपुर से गुहार लगाई है।पुलिस उपमहानिरीक्षक पुलिस अधीक्षक डॉ विपिन मिश्रा ने जल्द कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है। स्थानांतरित कोतवाल अपराधियों को गिरफ्तार करने में नाकाम रहे। अब देखना है कि नवागत कोतवाल अपराधियों के प्रति क्या रवैया अपनाते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6