दबंगों ने दबंगई के बल पर किया घर कब्जा करने का प्रयास

दबंगों ने दबंगई के बल पर किया घर कब्जा करने का प्रयास

केएमबी रुक्सार अहमद

  सुल्तानपुर। जनपद में दबंगों का आत्मविश्वाश इतना बढ़ गया कि रविवार की सुबह दिन दहाडे़ बंधुआ थाना क्षेत्र ग्राम पूरे नंदलाल पंडित गोविंद पांडेय के घर पर कब्जा करने का भरपूर प्रयास किया गया।पीडित से बात करने पर पूरे मामले में थाना बंधुआ की कार्यप्रणाली संदेहास्पद लगती हैं।बताते चलें कि पीडित के बडे़ भाई स्व: जगदीश पांडेय का अपनी पत्नी से आपसी सहमति से अलगाव हो गया था,उसके बाद उन्होंने एक दूसरी महिला रेनू से बिना विवाह किए अपने साथ हरियाणा जहां वह काम करते थे ले कर रहने लगे,किंतु उक्त महिला रेनू ने उन्हें छोड़कर हरियाणा में ही किसी अन्य व्यक्ति के साथ अपनी गृहस्थी बना ली, तदुपरांत जगदीश प्रसाद अपने गांव वापस आकर अपने छोटे भाई के साथ रहने लगे इसी दौरान उनकी तबीयत खराब हुई तो पीडित गोविंद प्रसाद पांडे ने अपने बड़े भाई जगदीश पांडे की दवा दारू करवाई लेकिन उनका स्वर्गवास 1 वर्ष पूर्व हो गया और उनका क्रिया काम छोटे भाई पीड़ित गोविंद प्रसाद पांडे द्वारा किया गया।अब उसी रेनू द्वारा 15-16 वर्ष बाद अपने भाई मनोज उपाध्या एंव उनके साथीयों द्वारा पीडित के घर मार पीट की गई और जबरदस्ती घर पर कब्जा करने का प्रयास किया गया, जबकि गोविंद प्रसाद पांडे एवं उनके भाई जगदीश प्रसाद पांडे के जीवित रहने के समय ही इनके पिता जी ने गोविंद प्रसाद पांडे की पत्नी के नाम सारी चल अचल संपत्ति वसीयत कर दी थी, जिस पर जगदीश प्रसाद पांडे की अनापत्ति भी लगी हुई है, और उसका खारिज दाखिल भी हो चुका है। बावजूद इसके एस ओ थाना बंधुआ पीडित के खिलाफ ही कार्रवाई करने पर तुले हुए हैं।पीड़ित परिवार इतना डरा सहमा हुआ है कि उसने अपना घर छोड़ दिया और पूरा परिवार जिला मुख्यालय पर आकर पुलिस अधीक्षक महोदय से मिलना चाहा लेकिन मुलाकात नहीं हो पाई।उसके बाद जिलाधिकारी महोदय से मिलना चाहा लेकिन उनसे भी मुलाकात नहीं हो पाई, जिस वजह से पीड़ित का पूरा परिवार लखनऊ माननीय योगी जी के जनता दर्शन में अपनी फरियाद लेकर पहुंचा उसके पश्चात पीड़ित परिवार डीजीपी महोदय से मिलकर पुलिस द्वारा अपने पर हुए अत्याचार को बयान किया,जिस पर डीजीपी द्वारा तुरंत पुलिस अधीक्षक महोदय से फोन पर वार्ता कर न्यायोचित कार्यवाही करने का आदेश दिया। अब देखना है कि पीड़ित को कितना न्याय मिल पाता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.