2

जय ज्ञान एफपीओ द्वारा प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना के प्रचार वाहन का किया गया स्वागत

जय ज्ञान एफपीओ द्वारा प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना के प्रचार वाहन का किया गया स्वागत

केएमबी गणेश तिवारी

सुल्तानपुर। अखंड नगर विकास खण्ड के जय ज्ञान नगर उनुरखा ग्रामसभा में प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना का प्रचार वाहन पहुंचा तो किसानों ने इस पहल की सराहना की। बताते चलें कि खेती किसानी के लिए महत्वपूर्ण योजना प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना बहुत ही महत्तवपूर्ण योजना है। योजना की जागरूकता के लिए जनपद के जिलाधिकारी रवीश गुप्ता और मुख्य विकास अधिकारी अतुल वत्सय जिला कृषि अधिकारी सदानंद चौधरी द्वारा हरी झंडी देकर जनपद के सभी विकास खंडो में किसानों को योजना की जानकारी के लिए जागरूक करने के लिए रवाना किया गया। इसी क्रम में प्रचार वाहन जब अखंड नगर विकास खण्ड के जय ज्ञान नगर उनुरखा ग्राम सभा में पहुंचा तो जय ज्ञान एग्री जंक्शन फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड (एफएओ) जय ज्ञान नगर उनुरखा के डायरेक्टर और कृषि विशेषज्ञ ज्ञानचन्द्र तिवारी ने प्रचार वाहन का स्वागत किया और किसानों को जागरूक करने के इस पहल की सराहना की। उन्होंने कहा कि जनपद मुख्यालय से लगभग 75 किलोमीटर दूर जहां योजनाओं का पता किसानों को नहीं चल पाता। जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा इस तरह का वाहन भेजकर किसानों को जागरूक करना बहुत ही सराहनीय है। उन्होंने जिम्मेदार अधिकारियों को धन्यवाद देते हुए कहा कि किसान भाई अपनी फसल का फसल बीमा अवश्य कराएं। अभी धान की रोपाई का समय चल रहा है। ऐसे में सभी किसान भाई फसल बीमा जरूर कराएं जिससे फसल का नुकसान होने पर उसका मुवाब्जा मिल सके। फसल बीमा के तहसील सहयोगी गौरव सिंह ने बताया कि किसान भाई फसल बीमा के लिए अपने नजदीकी जन सेवा केन्द्र से आवेदन कर सकते हैं या जिन किसान भाइयों का किसान क्रेडिट कार्ड है वो किसान भाई अपनी बैंक में जाकर सूचित करके योजना का लाभ ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि किसान भाई फसल बीमा से संबंधित जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर 18008896868 पर फोन करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इस मौके पर प्रगतिशील किसान प्रेमचंद तिवारी, राम शब्द शर्मा, वशिष्ठ नारायण तिवारी, सुनील यादव, रिंकू तिवारी, रामचेत मौर्या, सतीश यादव, शिखर शर्मा, राम उजागिर राजभर, बृजभान शर्मा, नवीन तिवारी, अनूप तिवारी, सुजीत तिवारी, अभिनव तिवारी, मोनू तिवारी, सुरेश तिवारी, शिवम तिवारी समेत अन्य किसान मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6