2

जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय देवरिया मे भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा

 जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय देवरिया मे भ्रस्टाचार की पराकाष्ठा

26 जुलाई 2022






संजय विश्वकर्मा

क्राइम रिपोर्टर 

केएमबी न्यूज़ देवरिया

 ----------------जनपद देवरिया स्थित कार्यालय जिला विद्यालय निरीक्षक में भ्रष्टाचार रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है यहां यह भी नहीं पता चल रहा है की कितने सह जिला विद्यालय निरीक्षक और कितने जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यरत है अभी एक ताजा तरीन मामला आया है जिसमें जिला विद्यालय निरीक्षक के स्थान पर उप प्रधानाचार्य महेंद्र प्रसाद राजकीय इंटर कॉलेज देवरिया द्वारा हस्ताक्षर कर आदेश निर्गत किए जा रहे हैं तथा फाइलों पर हस्ताक्षर किए जा रहे हैं राजकीय हाई स्कूल के एक शिक्षक ने 36 दिवस ग्रीष्म अवकाश में कार्य किया उसके बदले में महेंद्र प्रसाद जी द्वारा 26 दिवस का उपार्जित अवकाश जिला विद्यालय निरीक्षक देवरिया बंन कर स्वीकृत कर दिया गया। महेंद्र प्रसाद द्वारा इस तरह के अनाधिकार के प्रयोग का मामला आए दिन सामने आता रहता है यह समझ में नहीं आता की वर्तमान वास्तविक जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा किस तरह के अधिकार का प्रत्यायोजन महेंद्र प्रसाद जी को किया गया है की वास्तविक जिला विद्यालय निरीक्षक देवरिया के कार्यालय में उस दिन रहने के बावजूद भी जिला विद्यालय निरीक्षक का हस्ताक्षर महेंद्र प्रसाद उप प्रधानाचार्य द्वारा महत्वपूर्ण फाइलों पर किया जा रहा है उप प्रधानाचार्य राजकीय इंटर कॉलेज  कब सह जिला विद्यालय निरीक्षक हो जाता है और कब जिला विद्यालय निरीक्षक हो जाता है यह समझ से परे है वर्तमान में उप प्रधानाचार्य महेंद्र प्रसाद 3 पदों पर कार्यरत हैं प्रधानाचार्य राजकीय इंटर कॉलेज, जिला विद्यालय निरीक्षक एसोसिएट, तथा जिला विद्यालय निरीक्षक भी हैं। उप प्रधानाचार्य का कार्य विद्यालय में विद्यालय व्यवस्था में सहयोग के साथ साथ छात्रों को शिक्षा देना है इसके बावजूद भी इन शिक्षकों को छात्रों को शिक्षा देने तथा जिसके लिए सरकार इनको मोटा वेतन देती है का मूल कार्य छोड़ कर अनाधिकृत रूप से अधिकारियों की कृपा से मलाई काटने के कार्य में लगाया जाता है यही कारण है कि उत्तर प्रदेश में विशेषकर जनपद देवरिया में माध्यमिक ने विद्यालयों को नियमित करने वाले अधिकारी इस तरह के घोर लापरवाही करते हैं तो माध्यमिक शिक्षा उत्तर प्रदेश दुर्दशा का शिकार होती है। प्रकरण गंभीर है जांच कर कार्यवाही की आवश्यकता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6