2

जूनियर हाई स्कूल के खंडहर में बंद किए गए पशुओं ने चारा पानी के अभाव में तोड़ा दम

जूनियर हाई स्कूल के खंडहर में बंद किए गए पशुओं ने चारा पानी के अभाव में तोड़ा दम

केएमबी रुखसार अहमद
सुल्तानपुर। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार एक तरफ जहां गोवंश के संरक्षण के लिए कई योजनाएं चला रही है, गौशालाओं की स्थापना कर रही है ताकि गोवंश की सुरक्षा की जा सके लेकिन अधिकतर गोवंश आश्रय स्थल अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहे हैं। सरकार को गोवंश संरक्षण के चाहे जितने दावे कर ले लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है। इन गोवंश आश्रय स्थलों में पशु चारे और पानी के अभाव में दम तोड़ रहे हैं। दोस्तपुर थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत बेथरा में दिल दहला देने वाला एक मामला सामने आया है। जहां सड़क के किनारे जूनियर हाई स्कूल के प्रांगण में कई पशुओं को चार-पांच दिन पहले ले जाकर एक कमरे में बंद कर दिया गया था। कमरे में बंद किए गए सभी जानवर कई दिनों से चारा और पानी न मिलने के कारण भूख प्यास से तड़पकर दम तोड़ दिए। कई दिन से मृत जानवरों के सड़ने के कारण बदबू फैलने लगी तो इसकी सूचना स्थानीय लोगों ने थाना दोस्तपुर को दिया। सूचना मिलते ही दोस्तपुर पुलिस मौके पर पहुंचकर मृत जानवरों को जेसीबी द्वारा कमरे की दीवार तोड़कर बाहर निकलवाया गया। इस घटना के संदर्भ में थानाध्यक्ष दोस्तपुर से बात की गई तो उन्होंने बताया कि जानवर ग्रामीणों की फसलें नष्ट कर रहे थे। अपनी फसल को बचाने के लिए जानवरों को रात के अंधेरे में ले जाकर जूनियर हाई स्कूल के प्रांगण में स्थित निष्प्रयोज्य कमरे में अज्ञात लोगों द्वारा बंद कर दिया गया था। कई दिन चारा पानी के बिना पशुओं की मौत हो गई। इस घटना के संबंध में अज्ञात लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6