2

नवागत जिलाधिकारी जिला अस्पताल का किया औचक निरीक्षण एवं दिए आवश्यक निर्देश

नवागत जिलाधिकारी जिला अस्पताल का किया औचक निरीक्षण एवं दिए आवश्यक निर्देश

केएमबी ब्यूरो रानू शुक्ला

बांदा। जिलाधिकारी बांदा दीपा रंजन ने जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौैरान उन्होंने ओपीडी, शिशु एवं बाल रोग विभाग, ईएनटी, डेंगू वार्ड, इमरजेन्सी वार्ड तथा महिला वार्ड एवं सिटी स्कैन कक्ष आदि का गहनता से निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय अस्पताल में इलाज हेतु आए हुए मरीजों से वार्ता करते हुए उनके चिकित्सीय इलाज किये जाने तथा अस्पताल से आवश्यक दवाइयों के मिलने के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने ओपीडी में उपस्थित चिकित्सक से आने वाले प्रतिदिन मरीजों की संख्या के बारे में जानकारी प्राप्त की। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से अस्पताल में कार्यरत चिकित्सकों के साथ फिजीशन एवं सर्जन चिकित्सकों के बारे में जानकारी प्राप्त करते हुए मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को निर्देशित किया कि मरीजों को अस्पताल से ही आवश्यक दवायें उपलब्ध करायी जायें, किसी भी मरीज को बाहर से दवा लेने हेतु पर्ची इत्यादि न लिखी जाए, एक मरीज के द्वारा बाहर से दवा लिखे जाने की जानकारी देने पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि यदि किसी चिकित्सक के द्वारा बाहर से दवा लेने हेतु लिखा जाता है तो उनके विरूद्ध कडी कार्यवाही की जायेगी।
जिलाधिकारी ने डेंगू वार्ड के निरीक्षण के दौरान मरीजों के तीमारदारों के अधिक मिलने पर निर्देश दिये कि एक मरीज के साथ एक ही व्यक्ति वार्ड में रहे तथा मरीजों को कहा कि डेंगू से बचाव हेतु मच्छरदानी प्रयोग आवश्यक रूप से करें, जिससे कि मरीज एवं तीमारदारों का भी बचाव हो सके। उन्होंने सिटी सकैन कक्ष का निरीक्षण करते हुए प्रतिदिन होने वाले सिटी स्कैन की जानकारी ली, जिस पर बताया गया कि प्रतिदिन लगभग 60से70 सिटी स्कैन किये जाते हैं, उन्होंने निःशुल्क सिटी स्कैन किये जाने का बोेर्ड भी लगाये जाने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान अस्पताल में चिकित्सक उपस्थित पाये गये। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी चिकित्सकों की उपस्थिति समय से शत्-प्रतिशत सुनिश्चित करायी जाए।
जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान ब्लड बैंक के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की जिसमें मुख्य चिकित्सक अधीक्षक के द्वारा बताया गया कि जिला अस्पताल में एक ब्लड बैंक तथा राजकीय मेडिकल काॅलज में दो ब्लड बैंक स्थापित हैं। उन्होंने निरीक्षण में एनआरसी में भर्ती बच्चों एवं मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अन्तर्गत किये जा रहे इलाज के सम्बन्ध में भी जानकारी ली।
जिलाधिकारी के निरीक्षण के समय मुख्य चिकित्सक अधीक्षक डाॅ0 एसएन मिश्रा, डाॅ0 एसडी त्रिपाठी सहित अन्य चिकित्सक गण उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6