2

शासकीय महाविद्यालय कुरई में मध्यप्रदेश स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित किए गए विविध आयोजन

शासकीय महाविद्यालय कुरई में मध्यप्रदेश स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित किए गए विविध आयोजन

केएमबी नीरज डेहरिया

सिवनी। शासकीय महाविद्यालय कुरई में उच्च शिक्षा विभाग से प्राप्त निर्देशानुसार 1 नवंबर 2022 से निरंतर म0प्र0 स्थापना दिवस की विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया गया।महाविद्यालय के स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ व राष्ट्रीय सेवा योजना के संयुक्त तत्वाधान में 1 नवंबर को मध्यप्रदेश स्थापना दिवस कार्यक्रम के तहत प्राचार्य बीएस बघेल ने उपस्थित समस्त स्टाफ के सदस्यों व विद्यार्थियों को मप्र स्थापना दिवस की शुभकामनाएं प्रेषित की। ततपश्चात कार्यक्रम में आगे म0प्र0 की विशेषताओं के संदर्भ में असेम्बली का आयोजन किया गया। जिसमें छात्रा पूजा डोंगरे द्वारा म0प्र0 का  महत्व, स्थापना एवम आत्मनिर्भर मप्र पर वक्तव्य दिया गया। इसके साथ ही प्राध्यापक पंकज कुमार गहरवार द्वारा बताया गया कि राज्यों के पुनर्गठन के फलस्वरूप 1 नवंबर 1956 को नया राज्य मप्र का उदय हुआ। प्रदेश का पुनर्गठन भाषाई आधार पर किया गया। कार्यक्रम के अंत में सामूहिक म0प्र0 गान का आयोजन किया गया। विभाग से प्राप्त निर्देश के अनुपालन में 2 नवंबर 2022 को भाषण एवं वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन शीर्षक ‘‘म0प्र0 के सर्वांगीण विकास में युवा शक्ति की भूमिका का महत्व’’ किया गया। 3 नवंबर 2022 को रंगोली एवं निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। रंगोली प्रतियोगिता में छात्राओं के साथ-साथ छात्रों की भी सहभागिता रही। छात्राओं के द्वारा म0प्र0 के राजकीय पशु, पक्षियों, फल, पुष्प, खेल से संबंधित आर्कषक रंगोली डाली गई। रंगोली के माध्यम से विद्यार्थियों ने प्रदेश के राजकीय प्रतीकों का संदेश दर्शकों को प्रेषित किया। दर्शकों के द्वारा छात्राओं के प्रयास को सराहा गया। इसी कडी में पोस्टर प्रतियोगिता थीम ‘‘वन्य प्राणी जागरूकता’’ पर आयोजित की गई। प्रतियोगिता में महाविद्यालय की छात्रा फिजा खान और किम्मी ने सांस्कृतिक कलाओं के महत्व पर आधारित पोस्टर बनाया। पोस्टर प्रतियोगिता कार्यक्रम प्रभारी पवन कुमार सोनिक ने कहा कि ‘‘पारिस्थितिक तंत्र में सभी जीवों को पारस्परिक अन्योनाश्रित है’’ सभी जैव विविधताओं में ही मनुष्य का जीवन भी निर्भर है। 4 नवंबर 2022 को म0प्र0 सामान्य ज्ञान पर आधारित प्रश्नमंच प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में प्रथम स्थान शुभम सोनी, द्वितीय वैभव साहू एवं तृतीय स्थान शिवम शिव ने प्राप्त किया। 5 नवंबर 2022 को विभागीय निर्देशों के अनुपालन में लोक नृत्य ‘‘कर्मा’’ का प्रतिभागियों महेन्द्र कुमरे, विवेक खंडाते, अंजली उइके, प्रीता उइके एवं अन्य सहयोगियों के द्वारा प्रस्तुत किया गया।  01 नवंबर से 5 नवंबर तक प्रदेश की स्थापना दिवस के कार्यक्रमों में समस्त स्टॉफ एवं अध्ययनरत् विद्यार्थियों का भी पूर्ण सहयोग प्राप्त हुआ। कार्यक्रमों के आयोजन से अन्य विद्यार्थियों को भी प्रेरणा मिली एवं उनके द्वारा अभिव्यक्त किया गया कि आगे होने वाले कार्यक्रमों में वे भी सहभागिता करेंगें। निश्चित ही कार्यक्रमों के माध्यम से प्रभावी संदेश एवं प्रेरक वातावरण के निर्माण में सहायक होगा। कार्यक्रम के समापन अवसर पर प्रभारी प्रो. पंकज गहरवार ने कहा कि म.प्र. राज्य को भारत के दिल के रूप में जाना जाता है। म.प्र. कला एवं संस्कृति के क्षेत्र में विविधताओं से परिपूर्ण है। कार्यक्रम की गरिमा को बढ़ाने में महाविद्यालय स्टॉफ से श्री पवन सोनिक, डॉ. मधु भदौरिया, प्रो जयप्रकाश मेरावी, अलका नागले, अवनी शर्मा, योगेश तिवारी का महत्वपूर्ण योगदान रहा। इन सभी आयोजित कार्यक्रम में महाविद्यालय के विद्यार्थियों जिनमें शिवम शिव, जितेंद्र मर्सकोले, फिजा खान, सदफ नाज, शिरीन सुल्ताना खान, शिफा अंजुम, दुर्गा गिरी, रेहाना खान, निकिता नागवंशी, शैलेष भलावी का योगदान रहा। कार्यक्रम प्रभारी प्रो पंकज गहरवार ने कहा कि  हम सभी  विद्यार्थियों को जिम्मेदारी से अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए म.प्र. की प्रगति में अपना योगदान देना है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6