2

बारूद के ढेर पर सेमरी बाजार फिर भी अफसर अनजान, खतरे में हैं लोगों का जीवन

बारूद के ढेर पर सेमरी बाजार फिर भी अफसर अनजान, खतरे में हैं लोगों का जीवन

बाजार से महज 100 मीटर की दूरी पर स्थित है, सेमरी पुलिस चौकी

केएमबी अजय कुमार पाल

सेमरी बाजार, सुलतानपुर। जिले के जयसिंहपुर कोतवाली क्षेत्र के सेमरी चौकी अंतर्गत सेमरी बाजार इन दिनों बारूद के ढेर पर है। गलती की एक चिंगारी न सिर्फ पूरे बाजार को अपनी आगोश में ले सकती है बल्कि आसपास मौजूद हजारों की आबादी को नुकसान पहुंचा सकती है। नियमों को ताक पर रखकर कई पटाखा व्यापारी घनी आबादी के बीच लाखों रुपए के पटाखों की दुकानें लगा रखे है। बाजार इन दिनों दीपावली की खरीदारी करने वालों से गुलजार है। ऐसे में ये पटाखे की दुकानें बड़ा खतरा न बन जाए। सब कुछ जानने के बाद भी पुलिस और प्रशासनिक अफसर अनजान बने हुए है।
सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बावजूद पटाखों के अवैध भंडारण पर कार्रवाई को लेकर प्रशासन गंभीर नहीं दिख रहा है। अधिकारियों की लापरवाही से इस धंधे से जुड़े लोगों के हौसले बुलंद हैं और वे थोड़े से फायदे के लिए आम लोगों की जिंदगी को खतरे में डाल रहे हैं। दीपावली पर्व आते ही जयसिंहपुर कोतवाली क्षेत्र के सेमरी चौकी अंतर्गत सेमरी बाजार बारूद के ढेर पर बैठा हुआ है। बाजार में अनधिकृत रूप से आबादी के बीच बड़े पैमाने पर पटाखा की दुकानें खुल गई है जबकि नियमों के अनुसार पटाखों की दुकानें आबादी के बीच नही लग सकती है। यहां सामान्य श्रेणी के साथ ही तेज आवाज और चिंगारी वाले पटाखों की बिक्री भी धड़ल्ले से हो रही है। इससे हर वक्त खतरा बना हुआ है। कुछ दुकानें तो ऐसी संकरी गलियों में है, जहां आग लगे तो बुझाना भी आसान नहीं होगा। दीपावली पर बिकने वाले सुतली बम इसके प्रमाण है। सब कुछ जानने के बाद भी पुलिस और प्रशासनिक अफसर इसपर अनजान बने हुए है। बाजार से सेमरी पुलिस चौकी महज 100 मीटर की दूरी पर है। फिर भी पुलिस द्वारा इसके खिलाफ न तो कोई अभियान चलाया गया और न ही इन पटाखों की दुकानों को हटवाया गया। शायद पुलिस प्रशासन को किसी बड़ी घटना का इंतजार हो। इस बाबत सेमरी चौकी इंचार्ज अनिल सक्सेना ने कहा की इस पर मैं क्या कर सकता हु आप ही लोग बताए। शायद चौकी इंचार्ज को शासन की ओर से कोई दिशा निर्देश नही मिला है। वही इस बाबत क्षेत्राधिकारी जयसिंहपुर प्रशांत सिंह ने कहा की जानकारी मिली है इसे देखवाता हूं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6