2

जलकुंभी, काई एवं खरपतवार से पटा पड़ा है तालाब, छठ महापर्व की व्रती महिलाएं हैरान एवं परेशान

जलकुंभी, काई एवं खरपतवार से पटा पड़ा है तालाब, छठ महापर्व की व्रती महिलाएं हैरान एवं परेशान

केएमबी कर्मराज द्विवेदी

लंभुआ सुलतानपुर। छठ महापर्व की पूजा के लिए सरकार जोर शोर से जुटी हुई है। तालाब के सौंदर्यीकरण के लिए लाखों रुपए भी खर्च किए जा रहे हैं। लंभुआ नगर पंचायत के गोसाई का पुरवा में स्थित तालाब के सौंदर्यीकरण के लिए लंभुआ के पूर्व विधायक देवमणि दुबे के प्रयास से लंभुआ नगर पंचायत के खाते से करीब एक  करोड़ 57 लाख रुपए से गोसाई का पूरा छठ स्थल तालाब का सुंदरीकरण होना था। पूरा वर्ष व्यतीत होने के बाद भी तालाब की दशा वैसी की वैसी ही रही। तालाब की खुदाई करके कुछ पिलर सहित सरिया को बाहर कर दिया गया है जो कि किसी घटना का सबब भी हो सकता है। वही तालाब में साफ सफाई की कोई व्यवस्था अभी तक नहीं की गई है। जलकुंभी काई अन्य खरपतवार ने तालाब में अपना बसेरा कर लिया है। ग्रामीणों की माने तो नगर पंचायत के कुछ सफाई कर्मी आकर घाट के किनारे किनारे कुछ दूर तक सफाई कर दिए हैं। वही एक घाट को पूर्व में नगर पंचायत से पक्का भी बनवाया गया है जबकि यहां 3 घाटों पर छठ की पूजा का संपादन किया जाता है। एक घाट को आर्टिफिशियल तरीके से गांव वालों ने स्वयं बनवा लिया है।हजारों की संख्या में पहुंचने वाले श्रद्धालुओं के लिए यहां मात्र अव्यवस्था का अंबार ही दिखाई पड़ रहा है। सरकारी अधिकारियों की उदासीनता के चलते यहां के स्थानीय नागरिक क्षुब्ध हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6