2

जानें 16 नवंबर को राष्ट्रीय प्रेस दिवस को मनाए जाने का कारण

जानें 16 नवंबर को राष्ट्रीय प्रेस दिवस को मनाए जाने का कारण

केएमबी रुखसार अहमद
सुल्तानपुर। हर साल 16 नवंबर को भारत में राष्ट्रीय प्रेस दिवस मनाया जाता है। भारत में स्वतंत्रता और जिम्मेदार प्रेस के जश्न मनाने के लिए यह दिन मनाया जाता है। इस दिन भारतीय प्रेस परिषद (प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया) यह सुनिश्चित करने के लिए एक नैतिक प्रहरी के रूप में कार्य शुरू किया कि प्रेस के उच्च मानकों को बनाए रखें और किसी भी प्रभाव एवं खतरे से विवश न हो सके। यह उस दिन को याद करता है जब भारतीय प्रेस परिषद का काम शुरू हुआ था। भारतीय प्रेस परिषद की स्थापना 4 जुलाई 1966 को हुई थी, जिसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है।1956 में भारत में प्रेस की स्वतंत्रता की रक्षा के लिए एक प्रेस परिषद बनाने के लिए पहले प्रेस आयोग की योजना बनाई गई, 4 जुलाई 1966 को भारत में प्रेस परिषद की स्थापना हुई थी फिर 16 नवंबर 1966 से यह कार्य करने के लिए प्रभावी हुई, जिसके कारण हर साल 16 नवंबर को प्रभावी होने के चलते प्रेस दिवस के रूप में 16 नवंबर को मनाया जाता है। भारतीय प्रेस परिषद के बारे में भारतीय प्रेस परिषद का गठन 1966 में प्रेस परिषद अधिनियम 1960 के अंतर्गत हुआ था। यह प्रेस की स्वतंत्रता की रक्षा के लिए और अपने कर्तव्य में राज्य के उपकरणों पर भी अधिकार का प्रयोग करता है। यह सुनिश्चित करता है कि भारतीय प्रेस किसी भी अन्य बाहरी मामले से प्रभावित या विवश न हो।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6