2

नवागत जिलाधिकारी दीपा रंजन ने धान क्रय केंद्र एवं गौशाला का किया औचक निरीक्षण

नवागत जिलाधिकारी दीपा रंजन ने धान क्रय केंद्र एवं गौशाला का किया औचक निरीक्षण

केएमबी ब्यूरो रानू शुक्ला

बांदा। जिलाधिकारी दीपा रंजन ने खाद विभाग विपणन शाखा के राजकीय धान क्रय केन्द्र मण्डी, डीसीडीएफ शाखा के खाद विक्रय केन्द, मण्डी तथा तहसील सदर के हटेटी पुरवा गौशाला का औचक निरीक्षण किया।जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम राजकीय धान क्रय केन्द्र, मण्डी का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने धान क्रय रजिस्टर, टोकेन रिसीविंग रजिस्टर तथा निरीक्षण रजिस्टर एवं अन्य अभिलेखों को चेक किया। उन्होंने धान क्रय केन्द्र प्रभारी पंकज कुमार से अभी तक क्रय किये गये धान खरीद के सम्बन्ध में जानकारी ली, जिसपर बताया गया कि 382 कु0 धान की खरीद की गयी है। उन्होंने धान क्रय हेतु उपलब्ध पाये गये कांटा, बांट, पावर डस्टर एवं धान नमी मापक यंत्र को चेक कराया। जिलाधिकारी ने केन्द्र प्रभारी को निर्देश दिये कि केन्द्र में आने वाले किसानों का धान क्रय रजिस्टर में नाम, मोबाइल नम्बर अवश्य अंकित करें साथ ही टोकेन रजिस्टर अपडेट न पाये जाने पर टोकेन रजिस्टर को अपडेट रखने के शख्त निर्देश दिये। उन्होंने धान विक्रय हेतु आये किसान जगतराम से वार्ता की तथा पूंछा कि धान खरीद में किसी प्रकार की परेशानी तो नही हुई है, जिस पर किसान द्वारा बताया गया कि किसी प्रकार की कोई समस्या नही है। उन्होंने केन्द्र में बोंरो की उपलब्धता के सम्बन्ध में जानकारी लेते हुए केन्द्र प्रभारी को निर्देश दिये कि किसानों को धान खरीद हेतु फोन पर सूचित करने के साथ अधिक से अधिक किसानों का धान खरीद हेतु रजिस्टेªशन कराये जाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने डीसीडीएफ शाखा के खाद विक्रय केन्द, मण्डी का निरीक्षण किया, निरीक्षण में उन्होंने केन्द्र प्रभारी मयंक सिंह से खाद की उपलब्धता की जानकारी प्राप्त करते हुए स्टाॅक रजिस्टर को चेक किया। केन्द्र में यूरिया खाद का किसानों को वितरण करते हुए पाया गया। उन्होंने केन्द्र प्रभारी को निर्देश दिये कि खाद लेने वाले किसानों का खाद वितरण रजिस्टर में नाम व खतौनी संख्या भी दर्ज करायें।उन्होंने खाद क्रय करने हेतु आए किसानों से बातचीत करते हुए जानकारी की, कि खाद को प्राप्त करने में किसी प्रकार की परेशानी तो नही हो रही है तथा निर्धारित मूल्य पर ही खाद मिल रही है। उन्होंने केन्द्र प्र्रभारी को निर्देश दिये कि खाद वितरण में किसानों को किसी प्रकार की परेशानी नही होने  पाये। इसके उपरान्त जिलाधिकारी द्वारा बांदा तहसील सदर के अन्तर्गत हटेटी पुरवा गौशाला का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान गौशाला में कम संख्या में गौवंश पाये जाने पर उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी एवं अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका को निर्देशित किया कि शहर में विचरण कर रहे गौवंशो को एकत्र कर गौवंशों को गौशाला में संरक्षित रखा जाए। उन्होंने गौशाला में गौवंशो के संरक्षण हेतु उपलब्ध भूसा, चारे व पेयजल की उपलब्धता के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करते हुए गौशाला में साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था रखने एवं पर्याप्त मात्रा में भूसा रखने के सम्बन्ध में निर्देश दिये। उन्होंने गौवंशों के संरक्षण हेतु भूसा के साथ हरे चारे की भी व्यवस्था कराये जाने के सम्बन्ध में निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने गौवंशो को बीमारी से बचाव हेतु वैक्सीनेशन कराये जाने के सम्बन्ध में भी निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी वि0 एवं रा0 उमाकान्त त्रिपाठी, मण्डी सचिव प्रदीप कुमार, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, जिला कृषि अधिकारी प्रमोद कुमार अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6