2

शासन की सख्ती से बेखौफ, सीएचसी पीपी कमैचा के चिकित्सक लिख रहे सेटिंग की दवाएं

शासन की सख्ती से बेखौफ, सीएचसी पीपी कमैचा के चिकित्सक लिख रहे सेटिंग की दवाएं

विवादों से है डॉ योगेंद्र का पुराना नाता
 
केएमबी कर्मराज द्विवेदी

सुलतानपुर। चाँदा स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर सरकार के लाख प्रयास के बावजूद सरकारी अस्पतालों में चिकित्सक बाहर की दवाएं बेहिचक लिख रहे हैं। गरीब मरीजों की जेबें हल्की हो रही है। कमीशन के चक्कर मे चिकित्सक सरकारी आदेशो का खुल्लमखुल्ला मखौल उड़ा रहे हैं।सीएचसी पीपी कमैचा पर तैनात डॉ योगेंद्र यादव बेखौफ बाहर की दवाएं लिख रहे हैं। बनभोकर की मानसी सिंह को कई दिनों से बुखार है। अस्पताल दवा लेने आई है। डॉ योगेंद्र यादव को दिखाया, सरकारी दवाओं के अलावा बाहर के लिए दवाओ का पर्चा लिख दिया। मदारडीह गाँव की यशोमति देवी अपनी पुत्री के साथ अस्पताल आयी है। बाहर की दवाओं के बारे में डॉ योगेंद्र से निवेदन किया तो डॉ यादव ने बताया कि अंदर की दवा काम नही करेगी। दुबारा सात सौ रुपये की दवा लेना है। मानापुर प्रतापगढ़ की दुर्गावती देवी अपने बेटे के साथ आयी है। डॉ ने बाहर की दवाओं की लंबी लिस्ट पकड़ा दिया है। दुर्गावती चिंतित है। दवा हज़ार रुपये की होगी। कहती है मरता क्या न करता दवा लेना पड़ेगा। डॉ योगेंद्र यादव ने इस संबंध में बताया कि दवाएं मरीज़ों के कहने पर लिखता हूँ। एक प्रश्न के उत्तर में बताया कि खास दवाएं कुछ एक मेडिकल स्टोरो पर ही मिलती है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ आर एस यादव ने इस संबंध में बताया कि शिकायत मिली है। इस संदर्भ में लिखित में स्पष्टीकरण मांगा गया है, साथ ही मुख्य चिकित्साधिकारी सुल्तानपुर सूचित किया जा चुका है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6