2

अमेठी में सूर्या हॉस्पिटल पर पीड़ित ने पत्नी की गलत जांच करने का लगाया बड़ा आरोप

अमेठी में सूर्या हॉस्पिटल पर पीड़ित ने पत्नी की गलत जांच करने का लगाया बड़ा आरोप

पीड़ित ने मानसिक रूप से परेशान करने का लगा बड़ा आरोप
केएमबी खुर्शीद अहमद

अमेठी। एक बार फिर सूर्या हॉस्पिटल पर बहुत बड़े आरोप लगाए जा रहे है। कुछ दिन पहले भी एक नाबालिक बच्चे की मौत पर खूब बवाल हुआ था और अब आरोप पे आरोप लगाए जा रहे हैं जिससे सूर्या हॉस्पिटल की शाख पर धब्बा लगना लाजमी है।अस्पताल पर गलत जांच करने और मानसिक रूप से परेशान करने का भी आरोप लगाया जा रहा है, यहां एक पीड़ित महिला को महज बुखार में एचआईवी पॉजिटिव घोषित कर दिया गया और फिर इलाज भी नहीं किया गया। मामला कमरौली थाना क्षेत्र अंतर्गत दुलारी नगर के रहने वाले पवन कुमार ने दर्ज कराया है।
पीड़ित पवन कुमार का कहना है कि उसकी पत्नी राजकुमारी कुछ दिनों से बीमार थी उन्हें लगातार पेट दर्द और बुखार की शिकायत थी। पवन ने उन्हें सबसे पहले सीएचसी जगदीशपुर में दिखाया, जहां की दवाओं से उनकी पत्नी को कोई आराम नहीं मिला, इसके बाद वह अपनी पत्नी को 10 अक्टूबर को सूर्य हॉस्पिटल लेकर पहुंचे और अपनी अपनी को सूर्या हॉस्पिटल में एडमिट कराया। इस दौरान उनकी पत्नी राजकुमारी की कई जांच भी की गई जैसे ही जांच में राजकुमारी एचआईवी पॉजिटिव आई तुरंत पवन की भी जांच की गई। पवन का आरोप है कि डॉक्टर ने उनकी पत्नी को इसी दौरान अस्पताल से निकाल दिया और वह कई अस्पताल में रिपोर्ट लेकर भटके भटकते रहे किसी भी हॉस्पिटल में उनकी पत्नी को एडमिट नहीं किया गया। थक हार कर बड़ी मुश्किल से वह लखनऊ मेडिकल कॉलेज पहुंचे और वहां अपनी पत्नी राजकुमारी को एडमिट कराया लेकिन यहां कि जांच में जो बात सामने आई यह सुनकर पवन के होश उड़ गए। रिपोर्ट के मुताबिक उसकी पत्नी को एचआईवी था ही नहीं बल्कि उनकी सारी रिपोर्ट नॉर्मल थी। पीड़ित पवन कुमार का कहना है कि सूर्या हॉस्पिटल की रिपोर्ट मानसिक और आर्थिक रूप से मैं बहुत परेशान हुआ हूं। वापस लौट कर अस्पताल में इस बाबत बात की गई तो अस्पताल ने यह कहकर पल्ला झाड़ लिया कभी-कभी रिपोर्ट गलत आ जाती है। इस बात से आहत होकर पीड़ित ने सीएमओ अमेठी थाना प्रभारी कमरौली, डीएम अमेठी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से न्याय की गुहार लगाई है पर ढाक के 3 पात। अभी तक आश्वासन के अलावा पीड़ित की कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है। कारवाई कब होती है और क्या होती है यह तो भविष्य के गर्भ में है पीड़ित को न्याय मिलना ही चाहिए और अस्पताल पर कार्रवाई सुनिश्चित करनी चाहिए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6