2

सीएचसी चाँदा का हाल बेहाल, दुर्गन्ध और सड़ान्ध से जीना हुआ मुहाल, रास्ते पर बह रहा है सेप्टिक टैंक का गंदा पानी

सीएचसी चाँदा का हाल बेहाल, दुर्गन्ध और सड़ान्ध से जीना हुआ मुहाल, रास्ते पर बह रहा है सेप्टिक टैंक का गंदा पानी

केएमबी कर्मराज द्विवेदी

सुलतानपुर। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पीपी कमैचा, चाँदा परिसर स्थित सेप्टिक टैंक का गंदा पानी रास्ते मे बह रहा है। सड़ांध और बदबू से आवासीय परिसर में रहने वाले स्वास्थ कर्मी हलकान में हैं। तो संक्रामक बीमारी फैलने की आशंका है। साफ-सफाई व मच्छरों से निजात पाने के लिए स्वास्थ्य महकमा जहां इलाके के अवाम के लिए जिम्मेदार है तो अपने ही परिसर में फैली इस कदर गंदगी का निदान करने में नखाधा साबित हो रहा है।अस्पताल परिसर में अभी तक एंटी लार्वा का छिड़काव भी नही हुआ है। ब्लीचिंग पाउडर तक नही डाला गया जबकि जनपद के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में डेंगू संक्रमण का कहर जारी है। शासन साफ सफाई को लेकर बेहद संजीदा है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रतापपुर कमैंचा में स्वक्छ भारत अभियान बेमानी साबित हो रहा। सीएचसी का आवासीय परिसर झाड़ झंखाण से भरा पड़ा है तो नालियां बज बजा रही हैं। ऐसे में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र व आवासीय परिसर में फैली गन्दगी चिंता का विषय है। आवासीय परिसर में गंदगी फैली है। कही पैर रखने तक की जगह नहीं है। चिकित्सक सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मी यहां रहने को विवश है। अधिकतर आवासीय भवन पहले से ही जर्जर है, ऊपर से झाड़ झंकाण का साम्राज्य निश्चित रूप से चिंता का सबब बना हुआ है। प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ आरसी यादव ने बताया कि बजट के अभाव में साफ सफाई का काम अभी नहीं हो पाया है लेकिन जल्दी ही इसे दुरुस्त करा दिया जाएगा। सेप्टिक टैंक से गंदा पानी बहने की समस्या को तत्काल दुरुस्त करा दिया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6