2

नगर निकाय चुनाव के दृष्टिगत जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक हुई संपन्न

नगर निकाय चुनाव के दृष्टिगत जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक हुई संपन्न

केएमबी ब्यूरो रानू शुक्ला

बांदा। नगरीय निकाय सामान्य निर्वाचन-2022 को सकुशल एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने की बैठक जिला निर्वाचन अधिकारी न0नि0 एवं जिलाधिकारी बांदा दीपा रंजन की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। उन्होंने समीक्षा के दौरान समस्त थानाध्यक्षों को निर्देशित किया कि अपने-अपने क्षेत्र के नगर पालिका व नगर पंचायतों में नोटिस जारी कर शीघ्र शस्त्र जमा कराने की कार्यवाही पूर्ण की जाए, जिसमें कोतवाली नगर के 2986 शस्त्रों के सापेक्ष अभी तक कुल 30 शस्त्र जमा कराये गये। नगर पंचायत मटौंध 75 के सापेक्ष 08 शस्त्र, नगर पंचायत तिन्दवारी 80 के सापेक्ष 50 शस्त्र, नगर पंचायत नरैनी में 88 के सापेक्ष 28 शस्त्र, नगर पालिका परिषद अतर्रा में 300 के सापेक्ष 28, नगर पंचायत बबेरू में 264 के सापेक्ष 08, नगर पंचायत बिसण्डा व ओरन 116 के सापेक्ष 35 शस्त्रों को जमा कराया गया है। उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि यदि कोई शस्त्र लाइसेंस धारक सीमा विस्तार से बाहर शस्त्र ले जाता है, तो ऐसे शस्त्र धारकों का शस्त्र निरस्त करने की कार्यवाही की जाए तथा थाना व कोतवाली के अन्तर्गत 107,16 सीआरपीसी के अन्तर्गत की स्थिति खराब पाये जाने पर सुधार करने के निर्देश दिये, यदि निर्वाचन के दौरान भूमि विवाद सम्बन्धित मामले आते हैं तो दोनो पक्षों को पाबन्ध किया जाए, जिससे चुनाव में बाधा इत्यादि उत्पन्न न हो सके और जो इस दौरान लडाई झगडा करता है तो उसे 107,16 में पाबन्ध किया जाए तथा यह ध्यान में रखा जाए कि वृद्ध एवं मृतक 107,16 के अन्तर्गत कार्यवाही में न आयें, इस विषय का गहनता से परीक्षण कर लिया जाए। गुण्डा एक्ट एवं गैंगेस्टर की कार्यवाही एवं जो जिला बदर हो गये हैं, उनकी रिपोर्ट ली जाए तथा हाउस चेकिंग की जाए तथा हिस्ट्री सीटरों का बेरीफिकेशन कराया जाए। यह विशेष ध्यान रखा जाए कि किसी भी निर्दोश व्यक्ति को अनावश्यक परेशान न किया जाए और ना हि उसके खिलाफ कोई कानूनी कार्यवाही की जाए।
उन्होंने समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि कोई भी रिपोर्ट 107,16 की पेण्डिंग न रखें, शीघ्र भेज दी जाए तथा चालानी रिपोर्ट की संख्या बढाने के निर्देश सभी थानाध्यक्षों को दिये। गैंगेस्टर केस में लेखपाल से प्रापर्टी की रिपोर्ट ली जाए और भूमाफियों तथा खनन माफियों एवं जो सरकारी भूमि में कब्जा किये हैं, ऐसे लोंगो को चिन्हित कर गैंगेस्टर की कार्यवाही की जाए। उन्होंने समस्त उप जिलाधिकारियों एवं समस्त पुलिस क्षेत्राधिकारियों को निर्देशित किया कि शराब की चेकिंग अभियान चलाकर की जाए और लाइसेंस की दुकानों के आस-पास के एरिया को जरूर चेकर कराया जाए तथा सभी लोग अपने-अपने क्षेत्र में मतदान केन्द्र का निकास जरूर लिया जाए। समान्य श्रेणी, संवेदनशील एवं अति संवेदनशील तथा अति संवेदनशील प्लस श्रेणी के बूथों का भ्रमण कर आवश्यक व्यवस्थायें की जायें। यदि किसी केन्द्र पर बाउन्ड्री वाॅल, लाइट एवं पानी की अव्यवस्था है तो सम्बन्धित अधिशाषी अधिकारी कराना सुनिश्चित करें। पुलिस अधीक्षक अभिनंदन ने कहा कि आगामी चुनाव को दृष्टिगत रखते हुए सभी उप जिलाधिकारी एवं पुलिस उपाधीक्षक आपस में समन्वय स्थापित कर इस चुनाव को गतवर्षों की भांति सकुशल सम्पन्न कराने में अपना सहयोग दें। यदि किसी कार्य को करने में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है तो शीघ्र जिलाधिकारी महोदया या मुझे अवगत करायें, जिससे समय रहते समस्या का समाधान किया जा सके। बैठक में अपर पुलिस अधीक्षक लक्ष्मी निवास मिश्रा, अपर जिलाधिकारी वि0 एवं रा0 उमाकान्त त्रिपाठी, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट आर0जगत सांई, नगर मजिस्ट्रेट राजेश वर्मा, समस्त उप जिलाधिकारी गण, समस्त पुलिस क्षेत्राधिकारी गण एवं समस्त थानाध्यक्ष उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8


 

6