2

सेक्रेटरी की मदद से ब्लॉक दुबेपुर की कई ग्राम पंचायतों में ग्राम पंचायत का पैसा डकार रहे हैं प्रधान

सेक्रेटरी की मदद से ब्लॉक दुबेपुर की कई ग्राम पंचायतों में ग्राम पंचायत का पैसा डकार रहे हैं प्रधान


 केएमबी मंडल ब्यूरो कर्मराज द्विवेदी
सुल्तानपुर। प्रदेश की योगी सरकार भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लाख दावे कर ले लेकिन जमीनी हकीकत तो कुछ औऱ है। ताजा मामला विकासखंड दूबेपुर का है, जहां। ग्राम विकास अधिकारी के पद पर तैनात वृजेश कुमार तिवारी अपनी सभी ग्राम पंचायतों में कर रहे हैं बड़ा खेल ग्राम प्रधानों के खाते में,अवैध रूप से भेज रहे हैं ग्राम पंचायत का पैसा,   वित्तीय वर्ष 2021-22 में कूट रचित तरीके से प्रधानों के खाते में सेक्रेटरी द्वारा सरकारी धन भेजा जा रहा है। यह धनराशि हैंडपंप रिबोर तथा रिपेयर मजदूरों की मजदूरी व ग्राम पंचायतों में कराए गए उक्त विकास कार्यों के रूप में प्रधानों के खाते में पैसा भेजा जा रहा है।
यह तो मात्र एक बानगी है। यदि इनके कार्य क्षेत्र में आने वाली ग्रामपंचायतों में आये सम्पूर्ण धन की निष्पक्ष जांच कराई जाय तो सेक्रेटरी बृजेश कुमार तिवारी के बड़े-बड़े कारनामे तो सामने आयेंगे ही साथ ही साथ दूबेपुर ब्लाक क्षेत्र में आने वाली कमो बेश सभी ग्राम पंचायतों का यही हाल है। हैंडपंप रिबोर के नाम पर लगभग 30 से ₹50000 खर्च किए जा रहे हैं। जबकि मार्केट में इंडिया मारका टू हैंड पंप की कीमत ज्यादा से ज्यादा 22 से 23 हजार है। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है के ब्लॉक दूबेपुर में हैंडपंप रिबोर व मजदूरों की मजदूरी की किस कदर की जा रही है बंदरबांट यदि उच्च अधिकारियों द्वारा संज्ञान में लेकर जांच कराई जाए। तो होगा बड़ा खुलासा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6