2

पशुओं में लंपी स्किन डिजीज के कहर के चलते जिला प्रशासन अलर्ट

पशुओं में लंपी स्किन डिजीज के कहर के चलते जिला प्रशासन अलर्ट
 
केएमबी रुकसार अहमद
 सुलतानपुर। पशुओं में लंपी स्किन डिजीज के कहर के चलते जिला प्रशासन भी अलर्ट मोड पर आ गया है। इसी क्रम में नवागत मुख्य विकास अधिकारी अंकुर कौशिक द्वारा शुक्रवार को लम्पी स्किन डिजीज के दृष्टिगत जिला पंचायत द्वारा संचालित गोवंश आश्रय स्थल गोराबारिक अमहट, विकास खण्ड दूबेपुर का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के समय गोवंश आश्रय स्थल में कुल 29 गोवंश संरक्षित पाये गये, जिसमें 05 नर व 24 मादा थे। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा गोवंश आश्रय स्थल पर साफ-सफाई, खान-पान, भूषा, हरा चारा, दैनिक सत्यापन आदि का जायजा लिया गया। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित किया गया कि संरक्षित गोवंशों को पर्याप्त मात्रा में चारा व दाना दिये जायें। उन्होंने लम्पी स्किन डिजीज से बचाव हेतु गोवंश आश्रय स्थल की नियमित साफ-सफाई एवं टीकाकरण कराने के आवश्यक दिशा निर्देश दिये। 

लम्पी स्किन डिजीज के संक्रमण की रोकथाम के लिए जिलाधिकारी रवीश गुप्ता द्वारा पशु चिकित्सा अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। दिये गये निर्देश के क्रम में मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी सुलतानपुर को जनपद के नगर पालिका के 05 किमी0 की परिधि में लम्पी स्किन डिजीज बीमारी के रोकथाम हेतु समस्त गोवंशीय पशुओं में सघन टीकाकरण करने हेतु निर्देशित किया गया है। पशु चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि उक्त के क्रम में पशु चिकित्सा अधिकारी कार्यालय द्वारा आठ टीमों का गठन किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि सभी पशुपालक अपने पशुओं को घर पर ही बांधेंगे और कोई अपने जानवर को छुट्टा नहीं छोड़ेगा, जिससे सभी गोवंशीय पशुओं का टीकाकरण सम्पन्न कराया जा सके।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6