2

एंबुलेंस कर्मियों की सक्रियता से एक बार फिर एंबुलेंस में गूंजी किलकारी

एंबुलेंस कर्मियों की सक्रियता से एक बार फिर एंबुलेंस में गूंजी किलकारी

केएमबी खुर्शीद अहमद

अमेठी। बाजार शुक्ल स्वास्थ्य विभाग की 102 एंबुलेंस मनुष्य के अलावा पशुओं के लिए भी वरदान साबित हो रही है। सत्थिन
पीएचसी के 102 एंबुलेंस कर्मियों की सक्रियता ने एक बार फिर प्रसूता का सुरक्षित प्रसव कराकर जच्चा-बच्चा के लिए वरदान साबित हुई है। बताते चलें कि सुबह करीब 3:00 बजे जैसे ही 102 नंबर एंबुलेंस पर फोन आया कि रोली दुबे पत्नी अरविंद दुबे निवासी सत्थिन को एंबुलेंस की जरूरत है तो सूचना पर तुरंत ही 102 नंबर एंबुलेंस में तैनात चालक पवन कुमार वा ईएमटी रविकांत यादव मौके पर पीड़ित के पास पहुंचे और अस्पताल में काम कर रही आशा बहू मालती दुबे की मदद से इनका को एंबुलेंस में बिठाकर अस्पताल के लिए चले। अभी प्रसूता के घर से मात्र 500 मीटर दूर बढ़े थे कि अचानक ही प्रसव पीड़ा अधिक होने लगी। हालत गंभीर होने पर एंबुलेंस कर्मियों ने सूझबूझ और धैर्य का परिचय देते हुए आशा बहू मालती दूबे के सहयोग से सुरक्षित प्रसव कराया। फिलहाल जच्चा और बच्चा दोनो सुरक्षित हैं। बेहतर उपचार के लिए जच्चा बच्चा को सत्थीन पीएचसी में भर्ती कराया गया है। प्रसूता के परिजन सुरक्षित प्रसव पर एंबुलेंस कर्मियों के प्रति धन्यवाद प्रकट किया है। क्षेत्रवासियों द्वारा भी एंबुलेंस कर्मियों की सक्रियता एवम संवेदनशीलता के लिए बारंबार आभार जताया जा रहा है। एंबुलेंस चालक तथा स्टाफ के प्रति क्षेत्र के गांवों में विश्वास और बढ़ रहा है जो कि काफी सराहनीय है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8


 

6