2

किसान समस्याओं के निस्तारण के लिए भारतीय किसान यूनियन राजनैतिक ने सौंपा 19 सूत्रीय ज्ञापन

किसान समस्याओं के निस्तारण के लिए भारतीय किसान यूनियन राजनैतिक ने सौंपा 19 सूत्रीय ज्ञापन

 केएमबी रुखसार अहमद 
सुल्तानपुर। भारतीय किसान यूनियन जिलाध्यक्ष दिनेश प्रताप सिंह अगुवाई में 2 नवंबर, दिन बुधवार को राष्ट्रीय नेतृत्व के निर्देश पर किसान समस्याओं से संबंधित 19 सूत्रीय मांग पत्र जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को प्रेषित किया गया, जिसमें गन्ना किसानों के उत्पादन लागत में वृद्धि को देखते हुए भारत सरकार द्वारा भी गन्ने की एफआरपी में वृद्धि की गई है।उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा भी महंगाई के अनुपात में गन्ने का मूल्य ₹400 कुंटल तय किया जाए, किसानों को धान बेचने में आ रही समस्याओं को तत्काल निस्तारित किया जाए, किसानों को खेत में ट्रैक्टर ट्राली से मजदूर व आसपास तक घरेलू कार्य में भी उपयोग करना पड़ता है। अतः ट्रैक्टर ट्राली के व्यवसायिक उपयोग के किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए इससे किसानों को मुक्त किया जाए, उत्तर प्रदेश के किसानों पर सूखा व अतिवृष्टि दोहरी मार पड़ी है इसलिए किसानों की क्षति की भरपाई हेतु कृषि ऋण व बिजली बिल में छूट दी जाए, राहत सरकारी दर पर फसल की बुवाई हेतु निशुल्क बीज उपलब्ध कराया जाए, आवारा पशुओं की रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाए जाएं, सरकार द्वारा तारबंदी को रोकना किसानों के हित में एक गलत निर्णय हैं, तय मानक के हिसाब से तार लगाने की छूट दी जाए।जनपद के विभिन्न थानों में किसानों के साथ हो रहे पुलिसिया उत्पीड़न पर तुरंत रोक लगाई जाए। इसके साथ भारतीय किसान यूनियन अपेक्षा रखता है कि शासन द्वारा मांग पत्र की विभिन्न मांगों पर गंभीरतापूर्वक विचार कर उसके निस्तारण का कदम उठाया जाना चाहिए। इस मौके पर जिला प्रवक्ता नरेंद्र प्रताप सिंह, महिला प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष सैयदा बेगम, जिला महासचिव कर्मराज द्विवेदी, रिजवान अहमद, रामनरेश, बरकत अली, रामकुमार मौर्य, राघव राम तिवारी, रामनाथ मिश्रा, संतोष मिश्रा, सुरेश कुमार, राजेंद्र प्रसाद वर्मा, हरिशंकर गुप्ता आदि किसान मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6