2

रिटायर्ड कर्मी के साथ हुई लूट के आरोपियों को स्वाट टीम और पुलिस ने मुठभेड़ के बाद किया गिरफ्तार

रिटायर्ड कर्मी के साथ हुई लूट के आरोपियों को स्वाट टीम और पुलिस ने मुठभेड़ के बाद किया गिरफ्तार

केएमबी रूकसार अहमद
सुल्तानपुर। बीते 11 नवंबर 2022 को रिटायर्ड कर्मी सूर्य करन पुत्र रामरतन मिश्र नि0 बालापार भखरी थाना बल्दीराय जनपद सुलतानपुर द्वारा भागवत के लिये 50,000 रुपये बैंक आफ बडौदा इसौली से निकाल कर साइकिल से पारा होते हुये बल्दीराय की तरफ जा रहे थे, जिनसे रास्ते में 03 अज्ञात व्यक्ति मोटर साइकिल बिना नम्बर सवार बदमाशों ने रैकी करके 50,000 रूपये लूट लिये थे। इस दौरान सूर्यकरन द्वारा बदमाशों से कहा गया कि यह पैसा भागवत हेतु है, इसे न लो। तब भी दो बदमाशों ने तमंचा लगाकर लूटपाट की घटना को अंजाम दिया। जिस सम्बन्ध में पीड़ित की सूचना पर थाना बल्दीराय पर मु0अ0सं0 347/22 धारा 392 भादवि0 पंजीकृत किया गया था। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में एवं अपर पुलिस अधीक्षक व क्षेत्राधिकारी बल्दीराय के पर्यवेक्षण में थाना बल्दीराय पुलिस टीम व स्वाट टीम द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की गई तथा अभिसूचना तंत्र को सक्रिय किया गया । जमीनी सूचना एवं अभिसूचना संकलन के दौरान विश्वसनीय सूत्रों के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई कि थाना बल्दीराय पर पंजीकृत मु0अ0सं0 347/22 धारा 392 भा0द0वि0 से सम्बंधित अभियुक्तों के नरसिंह प्राथमिक विद्यालय के पास नहर रोड पर होने की सूचना मिली, जहां पहुंचने पर घटना में संलिप्त 03 नफर अभियुक्तगण 1. रामनयन पुत्र स्व० मनभावन सिंह नि0 गनेशपुर थाना बाबा बाजार जनपद अयोध्या 2. राजा उर्फ अनूप सिंह पुत्र नारेन्द्र प्रताप सिंह नि0 ग्राम नरहरपुर चौकिया थाना लम्भुआ सुलतानपुर 3. विकास पुत्र खुशीराम नि0 अढ़नपुर थाना मुसाफिरखाना अमेठी द्वारा पुलिस बल पर जान से मारने की नीयत से फायर किया गया जिससे कि पुलिस बल हताहत हो और इनकी गिरफ्तारी न कर सके। जिसमें आत्मरक्षार्थ पुलिस टीम द्वारा भी फायर करने पर अभियुक्त रामनयन एवं राजा उर्फ अनूप सिंह के पैर में गोली लगी, जिन्हें जीवनरक्षार्थ चिकित्सा हेतु अस्पताल भेजा गया व अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है।प्राथमिक पूछताछ मे यह पता चला कि अभियुक्त रामनयन जनपद अयोध्या का मूल निवासी है एवं लूट सम्बन्धित इसके ऊपर आधा दर्जन घटनायें दर्ज हैं, जिसके द्वारा यह भी बताया गया कि हिमाचल प्रदेश में एक ढ़ाबा वाले से 8.5 लाख रूपये लूट के केस में यह सजा भी काट चुका है। दूसरे अभियुक्त अनूप सिंह के बारे में पता चला कि इसके ऊपर भी लूट समेत कई आपराधिक मुकदमें दर्ज हैं। यह थाना लम्भुआ से रेप की घटना में जेल गया था। बाद में जेल से बाहर आया और उसी केस के वादी को जान से मारने की नीयत से गोली मारा था। वर्तमान में यह जमानत पर  मुम्बई में रहता है और घटना से कुछ दिन पहले ही कोर्ट में पेशी के लिए वापस आया है तीसरे अभियुक्त विकास के कथनानुसार, यह उसके लूट का पहला अपराध था। पुलिस अधीक्षक द्वारा इस सहासिक कार्य के लिए उत्साहवर्धन हेतु पुलिस टीम को 25 हजार रु0 नगद पुरस्कार देने की घोषणा की गई।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6