2

बाल संरक्षण सेवायें, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना एवं सखी वन स्टाप सेन्टर की संयुक्त बैठक हुई आयोजित

बाल संरक्षण सेवायें, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना एवं सखी वन स्टाप सेन्टर की संयुक्त बैठक हुई आयोजित

केएमबी मोहम्मद अफसर

सुलतानपुर। अध्यक्ष, जिला पंचायत ऊषा सिंह व जिलाधिकारी रवीश गुप्ता के सह-अध्यक्षता में विकास भवन स्थित प्रेरणा सभागार में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजनान्तर्गत जिला टास्क फोर्स के साथ ही बाल संरक्षण सेवायें (मिशन वात्सल्य), मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना एवं सखी वन स्टाप सेन्टर की संयुक्त बैठक आयोजित की गयी, जिसमें सदस्य सचिव, जिला प्रोबेशन अधिकारी वी0पी0 वर्मा द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजनान्तर्गत योजना संचालन एवं अन्तर्विभागीय सहयोग तथा मीडिया के माध्यम से योजना के प्रचार-प्रसार पर विस्तृत रूप से चर्चा की गयी, जिसमें अध्यक्ष, जिला पंचायत द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजनान्तर्गत प्रचार-प्रसार के माध्यम से समान लिंगानुपात लाने के लिये वृहद स्तर से अभियान चलाये जाने के निर्देश दिये गये। जिलाधिकारी द्वारा जनपद में कन्या जन्मोत्सव के अवसर पर माता-पिता का सम्मान बेटी के नाम पर वृक्षोरोपण, नेम प्लेट एवं दुकान का नाम बेटी के नाम पर करने हेतु सम्बन्धित विभागाध्यक्षों को निर्देशित किया गया कि इससे समाज में लोगों की मानसिकता में बदलाव आयेगा, लिंगानुपात के गिरावट में कमी होगी। तत्पश्चात सदस्य सचिव, जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा बाल संरक्षण सेवायें योजनान्तर्गत गठित जिला बाल संरक्षण समिति के बारे में बताया गया। उन्होंने मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, कोविड व सामान्य के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी गयी। बाल सेवा योजना कोविड के अन्तर्गत रूपये 4000 एवं बाल सेवा योजना सामान्य के अन्तर्गत रूपये 2500 बालक एवं बालिका को भरण-पोषण, स्वास्थ्य व शिक्षा के लिये राज्य सरकार द्वारा दिया जा रहा है, जिसके क्रम में अध्यक्ष द्वारा यह कहा गया कि जनपद में कोई पात्र उक्त योजनाओं से वंचित न रहे। जिलाधिकारी द्वारा भी निर्देशित किया गया कि विशेष अभियान चलाकर सम्बन्धित विभागों की भूमिका निर्धारित कर ली जाय, जिससे पात्र आवेदकों को उक्त योजना से लाभांवित किया जाय। इसी क्रम में सखी वन स्टाप सेंटर की जिला टास्क फोर्स की बैठक में सदस्य सचिव, जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा बताया गया कि सेन्टर 24x7 संचालित है, जिसमें किसी की हिंसा से पीड़ित महिलाओं व बालिकाओं को पांच दिन का अस्थायी शेल्टर दिया जाता है। पीड़िताओं की सुरक्षा एवं संरक्षण की दृष्टि से सेन्टर पर गार्ड एवं रेस्यू वैन की उपलब्धता के सम्बन्ध में चर्चा की गयी, जिसमें पुलिस अधीक्षक सोमेन वर्मा द्वारा सेन्टर पर गार्ड एवं रेस्क्यू वैन के उपलब्ध कराये जाने हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया गया। मुख्य विकास अधिकारी अंकुर कौशिक द्वारा उपरोक्त योजनाओं के व्यापक प्रचार-प्रसार एवं योजनाओं से लाभांवित करने के लिये सम्बन्धित को निर्देशित किया गया। बैठक में ब्लाक प्रमुख बल्दीराय शिव कुमार सिंह, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 लक्ष्मण, जिला समाज कल्याण अधिकारी अमित कुमार सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक सत्येन्द्र कुमार, जिला सूचना अधिकारी धीरेन्द्र कुमार, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी, अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका श्यामेन्द्र मोहन, जिला कार्यक्रम अधिकारी, श्रम प्रवर्तन अधिकारी व सदस्य, बाल कल्याण समिति, महिला शक्ति केन्द्र, सखी वन स्टाप सेन्टर, जिला बाल संरक्षण इकाई के अधिकारी सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6