2

उत्तर प्रदेश पिछड़ा वर्ग महासभा ने मेधावियों का किया सम्मान एवं साहित्यकारो को दिया गया स्मृति चिन्ह

उत्तर प्रदेश पिछड़ा वर्ग महासभा ने मेधावियों का किया सम्मान एवं साहित्यकारो को दिया गया स्मृति चिन्ह

केएमबी रुखसार अहमद

सुल्तानपुर। उत्तर प्रदेश पिछड़ा वर्ग महासभा ने आज लगभग 600 मेधावी बच्चों को सम्मानित किया। जिलाध्यक्ष ओम प्रकाश वर्मा की उपस्थिति में अमेठी की विधायिका महराजी देवी का भव्य स्वागत हुआ ।विशिष्ट अतिथि नगर पालिका चेयरमैन बबीता जायसवाल ने कार्यक्रम में उपस्थिति दर्ज कराई। इस मौके पर उनके प्रतिनिधि पति अजय जायसवाल ने कहा कि आप सभी पिछड़ी जाति के नहीं पिछड़े वर्ग के हैं। वही चार दर्जन से भी अधिक बार रक्तदान कर चुके करतार केशव यादव ने कहा कि हिंदुस्तान में साक्षरता की दर जितनी ज्यादा बढ़ेगी अज्ञानता उतनी ही दूर होगी । वही रामपाल कश्यप ने कहा कि अंधविश्वास पैरों में बेड़ियां समान है। सूप पीटने से दरिद्रता दूर नहीं होती। वही वरिष्ठ समाजसेवी हाजी हारून ने कहा कि आज जरूरत है। शिक्षा के कारण बच्चों के स्किल डेवलपमेंट होता है।शिक्षा की बयार बहाने से ही हिंदुस्तान के करोड़ों समाज का लोगों का उत्थान होगा। उन्होंने कहा कि समाज मे अलख जगाने वालों का सम्मान करने की जरूरत है। संचालन कर रहे जिला उपाध्यक्ष तेरस रामपाल ने कहा कि आज तकनीकी शिक्षा का युग है ।शिक्षा महंगी होती जा रही है, यह कठिन चुनौती। इस मौके पर वरिष्ठ अधिवक्ता शारदा यादव ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम में करीब 600 छात्र-छात्राओं का सम्मान किया गया। आधा दर्जन चिकित्सक व दो दर्जन पत्रकार भी सम्मानित किए गए। साहित्यकारों को शॉल पहनाकर उनको सम्मानित किया गया। इस मौके पर माता प्रसाद प्रजापति समेत दर्जनों समाजसेवी मौजूद रहे। संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री नाथ वर्मा ने मुख्य अतिथि महाराजी देवी को 51 किलो का माला पहना कर स्वागत किया। उन्होंने विशिष्ट अतिथि नगरपालिका चेयरमैन बबिता जायसवाल को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। प्रदेश उपाध्यक्ष श्री नाथ वर्मा ने कहा कि इस संगठन का सृजनी पिछड़े वर्ग के उत्थान और उन्नति के लिए हुआ है। इस मौके पर अशोक वर्मा,अजीत शर्मा, डॉ पीएल गुप्ता,डीएस गुप्ता मिथुन रावत, वीरेंद्र मौर्य, सुरेंद्र मौर्य आदि रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6