2

कोविड प्रबन्धन हेतु आवश्यक तैयारियों के सम्बन्ध में डीएम ने लिया जायजा

कोविड प्रबन्धन हेतु आवश्यक तैयारियों के सम्बन्ध में डीएम ने लिया जायजा

केएमबी रुखसार अहमद

सुलतानपुर। जिलाधिकारी रवीश गुप्ता की अध्यक्षता में वैश्विक स्तर पर कोविड-19 रोगियों की संख्या में तीव्रवृद्धि के दृष्टिगत पूर्व तैयारियों को लेकर विकास भवन स्थिति प्रेरणा सभागार में समीक्षा बैठक आयोजित की गई। उक्त बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अंकुर कौशिक, अपर जिलाधिकारी (वि0 एवं रा0) मनोज कुमार पाण्डेय, अपर पुलिस अधीक्षक विपुल कुमार श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 डी0के0 त्रिपाठी सहित स्वास्थ विभाग व सम्बंधित प्रशासनिक अधिकारियों ने प्रतिभाग किया। बैठक में कोविड महामारी से बचाव व जागरूकता तथा अस्पतालों में सभी आवश्यक तैयारियों को पूर्ण कराने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि जिला चिकित्सालय, महिला अस्पताल, ट्रामा सेंटर एवं जनपद के सभी प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों सहित जनपद में स्थापित आक्सीजन प्लांट आदि के बारे में सभी आवश्यक तैयारियाँ पूर्ण कर लें, ताकि आवश्यकता पड़ने पर जन सामान्य को सभी आवश्यक सुविधायें मुहैया कराई जा सके।स्वास्थ्य विभाग में मैन पावर की उपलब्धता की जानकारी प्राप्त की। उन्होनें कहा कि समस्त सरकारी एवं निजी चिकित्सालयों में फीवर हेल्प डेस्क की स्थापना की व्यवस्था करते हुये क्रियाशील किया जाए। यह भी निर्देशित किया कि जनपद में स्थापित एल-1 व एल-2 कोविड अस्पतालों को तत्परता से कियाशील किया जाए। उन्होंने कहा कि आक्सीजन आपूर्ति हेतु पाइप लाइन की स्थिति आदि के बारे पूरी जानकारी प्राप्त कर ले।जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि सभी चिकित्सको एवं पैरामेडिकल कार्मिकों को कोविड-19 के प्रबन्धन हेतु पुनः प्रशिक्षित किया जाए। उन्होंने कहा कि सभी चिकित्सालयों को तत्परता से क्रियाशील करते हुये आवश्यक उपकरण, लाजिस्टिक दवाइयां एवं मानव संसाधन की उपलब्धता, एंटीजेन, आर0टी0पी0सी0आर0 टेस्टिंग मशीन आदि की उपलब्धता भी सुनिश्चित करा ली जाए। जिला पंचायत राज अधिकारी एवं अधिशासी अधिकारी नगरीय निकाय को निर्देशित किया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में तथा समस्त नगरीय निकायों में कोविड-19 रोग की सर्विलांस हेतु गठित टीमों को क्रियाशील किया जाए। जनपद एवं ब्लाक स्तर भी गठित निगरानी समिति एवं आरआरटी टीमों का पुनः क्रियाशील कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि आवश्यकता पड़ने पर ग्रामीण क्षेत्रों में पूर्व की भांति आशा, आंगनवाडी कार्यकत्रियों तथा ग्रामीण निगरानी समिति के सदस्यों की टीम, सघन सर्विलांस टीमों को क्रियाशील किया जाय।जिलाधिकारी ने सभी आक्सीजन प्लांट को क्रियाशील करने हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया तथा कहा कि सभी की एक बार पुनः जॉंच करा ली जाए यदि कहीं मरम्मत करने योग्य हो, तो तत्काल थीक करा लें। उन्होंने कहा कि एकीकृत कोविड कमाण्ड सेन्टर को संचालित करने के लिये सभी आवश्यक आधारभूत सुविधाएं पहले से सुनिश्चित कर ली जाय। बैठक में जिला विकास अधिकारी अजय कुमार पाण्डेय, समस्त एसडीएम, परियोजना निदेशक (डीआरडीए) कृष्ण करूणाकर पाण्डेय, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी आशीष कुमार सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी व चिकित्सक उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8


 

6