2

महिला ग्राम प्रधान माया सिंह के नेतृत्व में ग्राम पंचायत डेहरियावां का हो रहा है चहुमुंखी विकास

महिला ग्राम प्रधान माया सिंह के नेतृत्व में ग्राम पंचायत डेहरियावां का हो रहा है चहुमुंखी विकास

केएमबी जगन्नाथ मिश्रा

बल्दीराय, सुलतानपुर। जहां आज के इस आधुनिक युग में अथवा पुरुष प्रधान देश में ग्रामीण महिलाएं घर की चौखट से बाहर नहीं निकल पाती क्योंकि उन्हें समाज की उलाहना सहनी पड़ती है वही एक ऐसी ही ग्रामीण महिला घर की दहलीज से बाहर निकलकर गांव का जो विकास कार्य किया है शायद ही कोई पुरुष ग्राम प्रधान कर पाता। यही कारण है कि ग्राम पंचायत का एक बार नेतृत्व को देखते हुए वहां की जनता ने माया सिंह को दोबारा पंचायत चुनाव में जिताने का दावा कर दिया है। आज ग्राम पंचायत का चौमुखी विकास देखकर नागरिक भी खुश हो रहा है। इसके पूर्व माया सिंह घर की चौखट से बाहर नहीं निकल पाती थी। आज ग्राम प्रधान का महत्वपूर्ण पद पाने के बाद हुए समाज को नई दिशा देने का काम कर रही है। बल्दीराय तहसील क्षेत्र की ग्राम पंचायत डेहरियावा निवासी ग्रामीण महिला माया सिंह ने दो वर्षों से लगातार ग्राम पंचायत का नेतृत्व करती चली आ रही है। ग्रामीणों ने यहां पूर्व के प्रधान द्वारा कार्य न कराए जाने से अपने को विकास कार्यों से अछूता मान रहे थे। वही महिला ग्राम माया सिंह ने अपनी ग्राम पंचायत पंचायत भवन का निर्माण करवाकर एक अनोखी पहल की है। माया सिंह ने ग्राम पंचायत का महत्वपूर्ण गांव डेहरियावा में प्राथमिक विद्यालय का कायाकल्प करते हुए विद्यालय को एक सुंदर सा रूप दे दिया। यह विद्यालय देखने में किसी शहरी विद्यालय की सुविधा से कम नहीं है। ऐसे ही गांव के दर्जनों पुरवा गांव में आरसीसी इंटरलॉकिंग खडन्जा का निर्माण करवाते हुए नागरिकों के लिए आवागमन की सुविधा सुलभ की है। ग्राम पंचायत में विधवा पेंशन से अछूती विधवाओं को उन्होंने पेंशन दिलाकर उन्हें इस लायक बना दिया है कि अब वह परिवार के भरोसे नहीं रहेगी। ग्रामीण बताते हैं कि लॉकडाउन के दौरान 2021 से ग्राम प्रधान महिला माया सिंह द्वारा प्रत्येक गरीब ग्रामीणों के घर राशन मुहैया करवाकर उन्हें भोजन मुहैया करवाया। यही नहीं प्रत्येक वर्ष ठंडी के मौसम में ग्राम प्रधान महिला माया सिंह द्वारा हर गरीब परिवार को एक-एक कंबल का वितरण करवा कर उन्हें ठंड से निजात दिलवाई है। डेहरियावा ग्राम पंचायत की ग्राम प्रधान माया सिह ने बताया कि अभी शासन से बजट मिलने के बाद ग्राम पंचायत का जो भी विकास कार्य अधूरा रह गया है उसे पूरा करने का प्रयास कर रही हूं। गांव के प्रत्येक नागरिकों को सरकारी सुविधाएं मिले इसके लिए हमेशा शासन की मंशा पर खरी उतरने का प्रयास करूंगी। आगामी भविष्य में भी चाहे प्रधान रहू या ना रहूं हमेशा अपने ग्राम पंचायत की जनता के लिए उनके सुख-दुख में हमेशा भागीदारी निभाने का प्रयास करती रहूंगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8


 

6