2

पोखरी की भूमि से मिट्टी का अवैध खनन का मामला

के एम बी ब्यूरो सुधीर राय 

छह ट्रैक्टर-ट्रॉली सीज





देवरिया सदर तहसील के हिरिन्दापुर गांव में पोखरी की भूमि से अवैध खनन के मामले में कार्रवाई करते हुए छह ट्रैक्टर-ट्रॉली सीज कर दी गई है।  नायब तहसीलदार सदर धर्मवीर सिंह ने बताया कि निरीक्षण के दौरान ग्राम पंचायत हिरिन्दापुर में पोखरी की भूमि में मिट्टी खुदाई की गतिविधि होते दिखी। खननकर्ताओं से अनुमति पत्र की मांग की गई, जिसे देने में उन्होंने असमर्थता व्यक्त की। जिस पर नायब तहसीलदार ने मौके पर मिले छह ट्रैक्टर-ट्रॉली को सीज करते हुए खनन अधिकारी राजरंजन कुमार के सुपुर्द कर दिया।


*माइनमित्रा पोर्टल पर करें आवेदन*

खनन अधिकारी राजरंजन कुमार ने बताया कि प्रदेश सरकार ने किसानों को निजी उपयोग के लिए मिट्टी की खुदाई करने के लिए पर्याप्त सहूलियते उपलब्ध कराई है। इसके लिए उन्हें कहीं भटकने की जरूरत नहीं है, बल्कि माइनमित्रा पोर्टल पर घर बैठे-बैठे निजी उपयोग के लिए मिट्टी खनन की अनुमति पा सकते हैं।


इसके लिए किसानों को खनन विभाग के पोर्टल www.upminemitra.in पर 'निजी उपयोग हेतु स्वयं की भूमि से साधारण मिट्टी के खनन परिवहन की अनुमति हेतु पंजीकरण' के विकल्प पर क्लिक कर पंजीकरण कराना होगा। पंजीकरण के लिए किसान को अपना नाम, पता, मोबाइल नंबर, खतौनी, गाटा संख्या, खनन का प्रयोग, आवेदित खनन क्षेत्र का पूर्ण विवरण यथा- जनपद, तहसील, ग्राम, गंतव्य आदि फीड करना होगा।इन जानकारियों को भरने के बाद किसान को अपना आवेदन सबमिट करना होगा जिसके पश्चात किसान को पोर्टल से स्वजनित पंजीकरण प्रमाण पत्र प्राप्त हो जाएगा। यही पंजीकरण प्रमाण पत्र ही परिवहन प्रपत्र के रूप में मान्य होगा। इस पंजीकरण प्रमाण पत्र की वैधता 15 दिन होगी। यह प्रक्रिया पूर्णतया निःशुल्क है। लेकिन, यह अनुमति पूर्णतया निजी उपयोग के लिए होगी। बिना रजिस्ट्रेशन के मिट्टी खुदाई करने पर 25 हजार रुपए प्रति वाहन जुर्माना का प्रावधान है।







एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6