2

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना में जिले को प्रदेश में मिला पहला स्थान

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना में जिले को प्रदेश में मिला पहला स्थान

केएमबी रुक्सार अहमद

सुलतानपुर। सुलतानपुर में महिलाओं में गर्भावस्था से जुड़ी जांच और स्वास्थ्य सेवाओं को बढ़ाने और कार्यक्रम के माध्यम से मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने के लिए हर माह की 9 व 24 तारीख को “प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान” दिवस आयोजित किया जाता है। कार्यक्रम के तहत इस वित्तीय वर्ष में अब तक सर्वाधिक प्रसव पूर्व जांच करने में जिले को प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है। “प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान” दिवस पर जिले के समस्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों एवं जिला महिला अस्पताल में गर्भवती महिलाओं की जांच कर उन्हें दवाओं का वितरण किया गया। जिला महिला चिकित्सालय सहित एफआरयू के रूप में कार्यरत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कादीपुर, दोस्तपुर, जयसिंहपुर, बल्दीराय और लम्भुआ पर मातृत्व क्लीनिक का आयोजन किया गया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. धर्मेंद्र कुमार त्रिपाठी ने कहा कि पीएमएसएमए माह में दो बार विशेष कार्यक्रम आयोजित कर गर्भवती की प्रसव पूर्व जांच की जाती है। इसका मुख्य उद्देश उच्च जोखिम गर्भावस्था का पता लगाकर समय रहते उचित देखभाल से मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में और कमी लाना है। उन्होंने बताया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 की प्रथम तिमाही में 8043 गर्भवती महिलाओं ने रजिस्ट्रेशन कराया था जिनमें 75.44 प्रतिशत गर्भवती महिलाओं की जांच के साथ सुल्तानपुर को पूरे प्रदेश में प्रथम स्थान मिला है। अप्रैल से जून तक प्रथम तिमाही में आयोजित पीएमएसएमए दिवसो में जिले की 6068 गर्भवती महिलाओं की प्रसव पूर्व जांच की गई है। उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में गर्भवती महिलाओं का ऑनलाइन माध्यम से रजिस्ट्रेशन होता है, एचएमआईएस पर प्रदर्शन के आधार पर सभी जिलों को स्थान प्राप्त होता है। महिला अस्पताल की स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ सरोज दुबे ने बताया कि प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना से गर्भवती महिलाओं को बेहतर लाभ मिला है। स्टाफ नर्स बंदना ने बताया कि प्रत्येक माह मैं 9 या 24 तारीख को गर्भवती महिलाओं की जांच की जाती है।लाभार्थी प्रियंका ने बताया कि उसने महिला अस्पताल में अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है जहां पर उसका वेट ब्लड जांच व अन्य जांचे निशुल्क की गई है। वह गर्भावस्था के दौरान स्वास्थ्य कर्मियों की देखभाल से पूरी तरह से संतुष्ट है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6