2

समाज के अंतिम व्यक्ति को समर्पित है योगी सरकार: स्वतंत्र देव सिंह

 के एम बी ब्यूरो  सुधीर राय 







जनसमस्याओं के समाधान में रचनात्मकता का परिचय दें अधिकारी: स्वतंत्र देव सिंह


अपराधियों में है भय का माहौल:स्वतंत्र देव सिंह


जन अपेक्षाओं की कसौटियों पर खरा उतरे अधिकारी: कृषि मंत्री


100 दिनों में हुए ऐतिहासिक कार्य


देवरिया (सू0वि0) 05 जुलाई। माननीय मंत्री जल शक्ति विभाग, सिंचाई, बाढ़ नियंत्रण, नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग स्वतंत्र देव सिंह ने आज विकास भवन स्थित गांधी सभागार में जनपदीय अधिकारियों के साथ विकास कार्यों एवं 100 दिन के लक्ष्यों की प्राप्ति की समीक्षा की। उन्होंने समस्त अधिकारियों को शासन की मंशानुरूप समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्तियों के हित में संचालित कल्याणकारी योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन का निर्देश दिया।

       माननीय मंत्री ने समस्त अधिकारियों को पूरे मनोयोग एवं निष्ठा के साथ जनहित में कार्य करने का निर्देश दिया। उन्होंने 100 दिन का निर्धारित लक्ष्य प्राप्त करने के लिए प्रशासन के प्रयासों की सराहना की। कहा कि अधिकारी रचनात्मकता का परिचय देकर जनहित में अधिक बेहतर परिणाम प्राप्त कर सकते हैं। जन समस्याओं का समाधान प्राथमिकता के साथ करें। प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री जी राष्ट्र को मजबूत करने के लिए निरंतर प्रयत्नशील हैं। समाज के अंतिम व्यक्ति का कल्याण करना सभी की प्राथमिकता होनी चाहिए। योगी सरकार समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के प्रति समर्पित है।

     माननीय कैबिनेट मंत्री ने बताया कि जनपद देवरिया में 100 दिन के अंदर व्यापक स्तर पर विकास कार्य हुए हैं।जनपद में समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना में 5089 लक्ष्य के सापेक्ष 5219 लोगों को पेंशन उपलब्ध कराई गई है। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत 175 जोड़ों का विवाह संपन्न कराया गया है। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत 142 लोग निशुल्क विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग प्राप्त कर रहे हैं।

     सिंचाई विभाग द्वारा घाघरा नदी के बाएं तट पर निर्मित तुर्तीपार चुरिया तटबंध के 13 किमी से 13.600 के मध्य 11 करोड़ की लागत से कटाव निरोधक कार्य पूर्ण कर लिया गया है। बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग ने 10 आंगनबाड़ी केंद्र का निर्माण कार्य पूर्ण किया है, जिसका लोकार्पण होना शेष है। दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग ने दिव्यांगजन पेंशन योजना के तहत 200 लाभार्थियों को पेंशन प्रदान किया है। कृत्रिम अंग सहायक उपकरण योजना के अंतर्गत 200 लाभार्थियों को विभिन्न प्रकार के कृत्रिम अंग प्रदान किए गए हैं। 100 से अधिक लाभार्थियों को मोटराइज्ड ट्राई साइकिल का वितरण किया गया है।

       सूक्ष्म लघु मध्यम उद्यम एवं निर्यात प्रोत्साहन विभाग द्वारा 1017 लाभार्थियों को प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, एक जनपद एक उत्पाद वित्त पोषण योजना एवं प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत सहायता उपलब्ध कराए गए हैं। लोक निर्माण विभाग ने जनपद में राज्य सड़क निधि से 12, पंडित दीनदयाल उपाध्याय योजना के अंतर्गत 5, नाबार्ड 20 के अंतर्गत 2,  नाबार्ड-26 अंतर्गत 4 और इंटरस्टेट 1 परियोजनाओं को विगत 100 दिनों की कार्ययोजना के तहत पूर्ण किया है। युवा कल्याण विभाग द्वारा प्रत्येक ग्राम पंचायत में 60 युवक मंगल दल का गठन किया गया है। दो स्थलों पर ग्रामीण खेलकूद के मैदान एवं ओपन जिम भी खोले गए हैं।

      जिला ग्रामीण विकास अभिकरण विभाग ने पूर्व स्वीकृत 1097 आवासों को पूर्ण कर लिया है। पंचायती राज विभाग ने 15,620 व्यक्तिगत शौचालय का निर्माण कराया है। खाद एवं रसद विभाग की डोर स्टेप डिलीवरी योजना 16 जून से जनपद में लागू है, जिसका लाभ जनपद वासियों को मिल रहा है।

       श्रम विभाग ने कन्या विवाह सहायता योजना के अंतर्गत 397 श्रमिकों की कन्याओं के विवाह हेतु वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई है। अंत्येष्टि सहायता योजना के तहत 119 मृतक श्रमिकों के आश्रितों को हितलाभ भी दिया गया है।

     माननीय कैबिनेट मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने बताया कि योगी सरकार ने कानून व्यवस्था के मुद्दे पर भी विगत 100 दिनों के अंदर जनपद में महत्वपूर्ण उपलब्धि प्राप्त की है। जनपद में 28 मुकदमे गैंगेस्टर एक्ट में दर्ज किए गए हैं। 2 करोड़ से अधिक की संपत्ति कुर्क की गई है। अपराधियों में भय का माहौल है और अपराध में कमी आयी है।

      माननीय कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को जनता की कसौटियों पर खरा उतरने के लिए निरंतर प्रयत्नशील रहने के लिए कहा। योगी सरकार 2.0 ने 100 दिनों के अंदर ही जनहित से जुड़े कई महत्वपूर्ण कार्य पूर्ण किये हैं। उन्होंने समस्त अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों द्वारा जनहित में उठाए गए समस्याओं का समयबद्ध निस्तारण करने का निर्देश दिया।

       समीक्षा बैठक के दौरान माननीय सांसद डॉ रमापति राम त्रिपाठी, माननीय विधायक जय प्रकाश निषाद, विधायक दीपक मिश्रा शाका, विधायक सुरेंद्र चौरसिया, विधायक शलभ मणि त्रिपाठी, एलएलसी रतनपाल सिंह एवं जिला पंचायत अध्यक्ष गिरीश चन्द्र तिवारी ने जनहित से जुड़े विभिन्न मुद्दों को उठाया, जिस पर माननीय मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने जिलाधिकारी को आवश्यक कार्यवाही करने का निर्देश दिया। 

       जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने आश्वस्त किया कि माननीय मंत्री जी द्वारा दिये गए निर्देशों का अक्षरशः पालन किया जाएगा। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार, प्रभारी सीएमओ डॉ सुरेंद्र सिंह, एडीएम प्रशासन कुँवर पंकज, एडीएम वित्त एवं राजस्व नागेंद्र कुमार सिंह एमएलसी प्रतिनिधि राजू मणि, अंगद तिवारी, जिला विकास अधिकारी श्रवण कुमार राय, डीपीआरओ अविनाश कुमार सहित विभिन्न प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।


वृक्षरोपण जन आंदोलन-2022 के तहत माननीय मंत्री ने किया पौधारोपण


माननीय मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने वृक्षारोपण जन आंदोलन 2022 के अंतर्गत आज देवरिया के न्यू कॉलोनी स्थित डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी पार्क में पौधारोपण किया। इस अवसर पर उन्होंने पर्यावरण की सुरक्षा के लिए अधिक से अधिक पेड़ लगाने का आह्वान किया।

मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल का किया वितरण


कैबिनेट मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने आज विकास भवन परिसर में आयोजित कार्यक्रम में 20 दिव्यांगजनों को मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल वितरित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार समाज के सभी वर्गों के विकास के लिए प्रतिबद्ध है।



कैबिनेट मंत्री ने किया तटबंधों का निरीक्षण


माननीय कैबिनेट मंत्री स्वतंत्र देव सिंह  ने रुद्रपुर के ग्राम रतनपुर में गोर्रा नदी के दाएं तट पर स्थित पचलडी तटबंध के पास एक करोड़ 35 लाख रुपये की लागत से कराए गए कटानरोधी कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने बाढ़ नियंत्रण से जुड़ी तैयारियों को मुक्कमल रखने का निर्देश दिया। इसके पश्चात उन्होंने गोर्रा नदी पर ही ग्राम सिलहटा में बाढ़ नियंत्रण परियोजना का निरीक्षण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बरसात के दृष्टिगत बाढ़ नियंत्रण की समस्त परियोजनाएं पूर्ण होनी चाहिए। इसमें किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाएं। इस दौरान विधायक रुद्रपुर जय प्रकाश निषाद, जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह, अधिशासी अभियंता बाढ़ एनके जाडिया सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।



















एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6