2

औषधि प्रशासन की छापेमारी में दुकान छोड़कर भागे अवैध मेडिकल स्टोर संचालक

औषधि प्रशासन की छापेमारी में दुकान छोड़कर भागे अवैध मेडिकल स्टोर संचालक

केएमबी रूकसार अहमद
सुल्तानपुर। जिले में बड़ी संख्या में बिना लाइसेंस एवं मानक पूरा किए मेडिकल स्टोर संचालित किए जा रहे हैं। इसको लेकर औषधि प्रशासन महकमा सख्त हो गया है। अवैध मेडिकल स्टोर संचालकों की धरपकड़ के लिए सहायक आयुक्त औषधि के नेतृत्व में चार जिलों के औषधि निरीक्षकों ने भदैंया सीएचसी के पास दवा की दुकानों पर छापा मारा। इस दौरान दो दुकानें लाइसेंस व फार्मासिस्ट के बिना चलती मिलीं। टीम ने दोनों दुकानों को सील कर दिया। दुकानदारों के खिलाफ केज दर्ज कराकर उन्हें पुलिस को सौंप दिया। छापामारी की सूचना मिलते ही आसपास के बाजार की दुकानें बंद कर संचालक भाग निकले। अयोध्या मंडल के सहायक आयुक्त औषधि गनेश चंद्र श्रीवास्तव के नेतृत्व में शुक्रवार को अंबेडकरनगर के डीआई शैलेंद्र प्रताप सिंह, अमेठी जिले के डीआई पूर्बोध रस्तोगी और सुल्तानपुर की डीआई अनीता कुरील की टीम ने भदैंया सीएचसी के पास के मेडिकल स्टोरों पर छापा मारा। इस दौरान सीएचसी गेट के सामने टिन शेड की गुमटी में बिना लाइसेंस के चल रहे गनपति मेडिकल स्टोर तथा गायत्री मेडिकल स्टोर की जांच की गई। जांच के दौरान दुकान में मिली दवाओं को टीम ने चार बोरियों में भर कर दोनों दुकानों को सील कर दिया। टीम ने दुकानदार धर्मेंद्र कुमार और हरीश विश्वकर्मा को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया। छापामारी की सूचना मिलते ही क्षेत्र के दोमुंहा चौराहा, कामतागंज, हनुमानगंज और लंभुआ के कारोबारी अपनी दुकानें बंद कर भाग निकले। औषधि सहायक आयुक्त गनेश चंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि भदैंया सीएचसी के सामने दुकानों पर पहुंचकर जांच की गई। मौके पर किसी दुकान पर फार्मासिस्ट नहीं मिले और क्रय-विक्रय अभिलेख भी नहीं बने थे। हरीश विश्वकर्मा और धर्मेंद्र कुमार बिना लाइसेंस के टीन शेड में मेडिकल स्टोर चलाते मिले। दोनों दुकानों की दवाएं सील कर केस दर्ज करवाया गया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6