2

सनातन धर्म को एक सूत्र में पिरोना ही अक्षय सनातन महासभा का एकमात्र लक्ष्य

सनातन धर्म को एक सूत्र में पिरोना ही अक्षय सनातन महासभा का एकमात्र लक्ष्य

केएमबी डा० बी पी शर्मा
 
न्यूज़ दिल्ली। हिंदू तन मन, हिंदू जीवन, रग रग हिंदू मेरा परिचय।पूर्व प्रधानमंत्री स्व अटल बिहारी बाजपेयी का कथन एकदम सत्य है। इसी क्रम में एतिहासिक भारत सभा हाल कलकत्ता में हिंदू युवाओं को राजन शर्मा ने सम्बोधित किया। अक्षय सनातन महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजन शर्मा की ओजपूर्ण वाणी से पूरा सभा हाल तालियों की ध्वनि से गूँज उठा। हिंदू समाज कल्याण समिति के अध्यक्ष सौरव सास्माल ने वीडीयो काफ़्रेंस के माध्यम से आमंत्रित किया था। राजन शर्मा ने युवाओं को सम्बोधित करते हुए बताया की यदि आज आप अन्याय के प्रति नही बोलते है तो आने वाली पीढ़ियाँ आपकी गूँगी पैदा होंगी इसलिए आज आप अत्याचार का विरोध कीजिए और डटकर सामना कीजिए। यह देश हमारा है और यही एकमात्र भूमि है जहाँ पर हम रह सकते है। हमारे पड़ोसी इतने अच्छे नही है कि हमें शरण दे देंगे। यूक्रेन को तो हर ओर से कई देशों से सहायता प्राप्त हो रही है किंतु आपके पड़ोसी ऐसे नही है। यदि वे ऐसे होते तो बँटवारे के समय पाकिस्तान में हिंदुओ की कितनी जनसंख्या थी जो अब घटकर बिल्कुल न्युन हो चुकी है। जातियों में बँटने से पूर्व आप सभी मात्र हिंदू है। सनातन धर्म सर्व धर्म समभाव की बात करता है। सर्वे भवंतु सुख़िन: की विचारधारा में विश्वास रखता है।हम बहुत ही सहिष्णु लोग है किंतु अन्याय होने पर उसका प्रतिकार करना निंदा करना ये भी हमारा धर्म हमें सिखाता है। सभा में उपस्थित सभी गणमान्य लोगों ने भी अपने अपने विचार प्रस्तुत किए। कार्यक्रम के अंत में स्व0 तपन घोष और स्व0 गोपाल दा को श्रद्धांजली भी अर्पित किया गया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7

8

6