2

डेंगू संक्रमण पर नियंत्रण के लिए ग्राउंड जीरो पर उतरा स्वास्थ्य विभाग

डेंगू संक्रमण पर नियंत्रण के लिए ग्राउंड जीरो पर उतरा स्वास्थ्य विभाग

केएमबी रुखसार अहमद

सुलतानपुर। नगर क्षेत्र के करौंदिया, ठठेरी बाजार व गभड़िया वार्ड में डेंगू संक्रमण के  मरीज मिलने से शहर से लेकर ग्रामीण इलाकों में दहशत का माहौल व्याप्त हो गया। स्थितियां भयावह हो  इससे पहले ही स्वास्थ्य विभाग ग्राउंड जीरो पर उतरकर संक्रमण से जूझ रहे क्षेत्रों में पहुंचकर आवश्यक कदम उठाते हुए लोगों की स्थानीय स्तर से लेकर लखनऊ तक "एलाइजा़ जांच" करवाने के साथ मरीजों का इलाज, वार्डों में फांगिग व जन-जागरण कार्यक्रम के साथ ही सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे है। मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ डीके त्रिपाठी ने कहाकि स्थितियां हमारें नियंत्रण में है, लोग घबराएं नही, अफवाहों पर ध्यान न देकर   यदि स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या है, तो जिला अस्पताल से लेकर पीएचसी, सीएचसी में संचारी रोग से निपटने के सभी इंतजाम किए गए हैं। सीएमओ डाॅ त्रिपाठी ने बताया की स्वास्थ्य विभाग की कई टीमें बनाई गई है, जो नगर क्षेत्र के सभी पच्चीसों वार्डों में जाकर जांच, इलाज, दवा छिड़काव कर रही है, सरकारी अस्पताल में डेंगू वार्ड बनाया गया है, हमारी लैब, ब्लडबैंक और फिजीशियन डाक्टरों की टीम 24 घंटे काम कर रही है। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि एसीएमओ डाॅ.लक्ष्मण सिंह, डिप्टी सीएमओ डाॅ लालजी के नेतृत्व में शहर के विभिन्न मोहल्लों में शिविर के माध्यम से लोगों की जांच और दवाओं के साथ डेंगू व अन्य संक्रामक बीमारियों से बचाव के लिए आवश्यक बातों का ध्यान रखने व जरूरत पड़ने पर सरकारी अस्पताल में आकर इलाज करवाने की सलाह भी दे रहे है। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि बुधवार को दशहरा त्यौहार होने के बावजूद हमने दो टीम लगाकर जीआईसी कालोनी, गभड़िया एव पल्टू का पुरवा में जांच कराई, जिसमें बुखार से ग्रसित मरीज तो मिले, लेकिन उनमें डेंगू संक्रमण के मरीजों की संख्या नगण्य रही। खबर लिखे जाने तक 102 मरीजों की जांच हो गई थी, जिनमें एक मरीज पाजिटिव मिला, जिसकी एलाइजा़ जांच लखनऊ भेजी जा रही है। दूसरी तरफ मुख्य चिकित्साधिक्षक डाॅ एससी कौशल ने डेंगू संक्रमण से निपटने की तैयारी को लेकर बताया की अबतक 11 मरीज ठीक होकर जा चुके हैं। मौजूदा समय में अस्पताल में 23 मरीज भर्ती है, जिनका उपचार हो रहा है। जल्द ही उनमें से कुछ को छुट्टी दी जा सकती है। सीएमएस डाॅ कौशल ने कहाकि अबतक जिला अस्पताल से 11 मरीजों की एलाइजा़ जांच लखनऊ भेजी जा चुकी है। अस्पताल में मरीजों के लिए प्लेटलेट्स, औषधियां एवं डाक्टर्स उपलब्ध है। उन्होने लोगों से अपील करते हुए कहा कि ऐतिहात बरतें कपड़े पूरी बांह का पहने अपने आस-पास साफ-सफाई रखे, गंदे व ठहरे हुए पानी को हटाने का काम अवश्य करें।
expr:data-identifier='data:post.id'

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8


 

6