2

भ्रष्टाचार में लिप्त प्रधानों और सचिवों पर घोटाले की पुष्टि होने पर नोटिस जारी

भ्रष्टाचार में लिप्त प्रधानों और सचिवों पर घोटाले की पुष्टि होने पर नोटिस जारी

केएमबी रूकसार अहमद
सुलतानपुर। जिले की तीन ग्राम पंचायतों में शौचालय निर्माण, हैण्डपम्प रिबोर, खेत समतलीकरण, सड़क निर्माण के नाम पर 24 लाख रुपए का गबन का मामला प्रकाश में आया है। जिला मजिस्ट्रेट ने जांच रिपोर्ट को गंभीरता से लेते हुए ग्राम प्रधानों को नोटिस जारी की है। दर्जनों ग्राम पंचायतों की पत्रावलियों की जांच प्रगति पर है। डीपीआरओ आर के भारती की कार्यवाही से भ्रष्टाचारी ग्राम प्रधानों और सचिवों में हड़कंप मचा हुआ है।
विकास खण्ड कुड़वार की ग्राम पंचायत अगई में विकास कार्य में अनियमितता की शिकायत पर डीपीआरओ आरके भारती ने मामले की जांच की। जांच में दिव्यांग शौचालय निर्माण , हैण्डपम्प रिबोर, नाली निर्माण के कार्य में सरकारी धन का दुरुपयोग करने का मामला प्रकाश में आया है। विभिन्न कार्यों के नाम पर एक लाख 55 हजार 420 रुपए का दुरुपयोग करने के आरोप में जिलाधिकारी ने प्रधान मंजू मिश्रा को नोटिस जारी की है। विकास खण्ड करौंदीकला की ग्राम पंचायत काशीपुर की जांच में मनरेगा योजना से खेत में समतलीकरण, राज्य वित्त व केन्द्रीय वित्त के तहत हुए कई कार्यों में अनियमितता पाई गई है। डीपीआरओ की ओर से विभन्नि कार्यों में 13 लाख आठ हजार 707 रुपए का दुरुपयोग करने के आरोप में प्रधान शहीदा बेगम को कारण बताओ नोटिस जारी की गई है।
विकास खण्ड धनपतगंज की ग्राम पंचायत बहादुरपुर में मनरेगा व राज्य वित्त से कराए गए कई कार्यों में अनियमितता की शिकायत पर डीपीआरओ की ओर से मामले की जांच की गई। जांच में गांव में विभन्नि कार्यो में नौ लाख 76 हजार 775 रुपए का दुरुपयोग करने का मामला प्रकाश में आया। जिलाधिकारी ने डीपीआरओ आरके भारती की जांच रिपोर्ट पर प्रधान अनीता को कारण बताओ नोटिस जारी की है। तत्कालीन सचिव बलिराम गौड़ को भी नोटिस दी गई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

7


8

6